कोलकाता। कांग्रेस के साथ सीटों के तालमेल पर सहमति नहीं बनने के बावजूद वाममोर्चा ने पश्चिम बंगाल में शुक्रवार को अपने 25 उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी। 15 पर माकपा और अन्य पर घटक दल के प्रत्याशी चुनाव लड़ेंगे। कांग्रेस ने रायगंज और मुर्शिदाबाद सीट पर लड़ने का दावा किया था, लेकिन माकपा ने इसकी परवाह किए बिनाअपनी जीती हुई इन दो सीटों पर उम्मीदवारों के नाम की घोषणा कर दी थी।

उक्त दो सीटों पर कांग्रेस के पहले ही पीछे हटने के बाद भी पुरुलिया और बशीरहाट पर भी उसके दावे को वाममोर्चा ने खारिज कर दिया है। हालांकि, उसने कांग्रेस से बातचीत का विकल्प खुला रखा है।

शुक्रवार को वाममोर्चा ने जिन 25 उम्मीदवारों की सूची जारी की है, उसमें पुरूलिया और बशीरहाट भी शामिल है। पुरूलिया से फारवर्ड ब्लाक के वीर सिंह महतो और बशीरहाट से भाकपा के पल्लव सेनगुप्ता उम्मीदवार हैं। रायगंज से माकपा के मोहम्मद सलीम और मुर्शिदाबाद से बदरुद्दोजा खान प्रत्याशी हैं।

माकपा ने कांग्रेस पर दबाव बनाने के लिए पहले ही अपनी जीती इन दो सीटों पर मोहम्मद सलीम और बदरुद्दोजा खान को उम्मीदवार घोषित कर दिया था। वाममोर्चा ने औपचारिक रूप से शुक्रवार को जिस तरह एकतरफा 25 उम्मीदवारों की सूची जारी की वह भी कांग्रेस पर दबाव बनाने की रणनीति ही मानी जा रही है।

वाममोर्चा के चेयरमैन विमान बोस ने कहा है कि कांग्रेस यदि महसूस करती है कि पुरुलिया और बशीरहाट में उसके जीतने की संभावना है तो वह अपना उम्मीदवार वहां उतार सकती है। किसके हिस्से कितनी सीटें वाममोर्चा ने जिन 25 उम्मीदवारों की सूची जारी की है, उनमें माकपा के 15, फारवर्ड ब्लाक के 3, आरएसपी के 3 और भाकपा के 3 उम्मीदवार शामिल हैं।

एक सीट पर पार्टी के नाम की घोषणा बाद में होगी। कांग्रेस ने कहा-हम भी एक-दो दिन में जारी कर देंगे सूची प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सोमेन मित्रा ने कहा कि वहा वाममोर्चा के सूची जारी करने पर कोई टिप्पणी नहीं करेंगे। वाममोर्चा अपने उम्मीदवारों की सूची जारी की है। कांग्रेस भी दो-तीन दिनों में अपने उम्मीदवारों की सूची जारी करेगी। कांग्रेस ने वाममोर्चा के साथ सीटों के तालमेल के लिए विकल्प खुला रखा है।

झारखंड में पांच सीटों पर चुनाव लड़ेंगे वामदल

वामदलों ने झारखंड में पांच संसदीय सीटों पर प्रत्याशी उतारने का निर्णय किया है। शुक्रवार को भाकपा (माले) के राज्य कार्यालय में वामदलों की संयुक्त बैठक में यह फैसला हुआ। वामदलों ने राजमहल, धनबाद, कोडरमा, पलामू और हजारीबाग सीट चिह्नित की हैं। यह भी तय किया है कि जिन सीटों पर उसके प्रत्याशी नहीं होंगे वहां भाजपा को हराने के लिए संयुक्त अभियान चलाया जाएगा।