कोच्चि। केरल में कांग्रेस को लगातार दूसरे दिन शुक्रवार को भी झटका लगा। सोनिया गांधी के करीबी रहे पार्टी प्रवक्ता टॉम वडक्कन के गुरुवार को भाजपा में चले जाने के अगले ही दिन तिरुवनंतपुरम से कांग्रेस सांसद शशि थरूर के मौसी-मौसा भी यहां भाजपा में शामिल हो गए।

शशि थरूर की मौसी शोभना शशि कुमार, उनके पति शशि कुमार और 13 अन्य लोगों का प्रदेश भाजपा अध्यक्ष पीएस श्रीधरन पिल्लई ने पार्टी में स्वागत किया। इस मौके पर थरूर के मौसी-मौसा ने कहा कि वे काफी दिनों से भाजपा की विचारधारा का अनुसरण कर रहे थे।

वडक्कन ने यूं दिया था कांग्रेस को झटका

गुरुवार को उस समय केरल में कांग्रेस को झटका लगा, जब उसके बड़े नेता और पूर्व राष्ट्रीय प्रवक्ता टॉम वडक्कन भाजपा में शामिल हो गए। उन्होंने भाजपा का दामन थामते हुए कांग्रेस पर देश विरोधी और वंशवादी होने के आरोप भी लगाए। उन्होंने कहा कि पुलवामा हमले के बाद सेना द्वारा की गई स्ट्राइक पर कांग्रेस का सवाल उठाना गलत था। इससे देश की भावनाएं आहत हुई हैं।

उन्होंने यह भी कहा कि मैंने अपनी राजनीति जीवन के कई साल कांग्रेस में बीता दिए लेकिन वहां वंशवाद की राजनीति हावी है। बता दें कि वडक्कन केरल में बड़े कांग्रेस नेता रहे हैं और रोमन कैथलिक समुदाय से आते हैं।