नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी होली के अवसर पर ऑडियो ब्रिज (काल सर्विस) के माध्यम से देश भर के लगभग 25 लाख चौकीदारों को संबोधित कर रहे हैं।

देश भर के सुरक्षा गार्डों के साथ बातचीत में पीएम मोदी ने कहा कि मैं पिछले कुछ महीनों में कुछ लोगों से माफी मांगना चाहता हूं क्योंकि उनके निहित स्वार्थों ने 'चौकीदारों' के खिलाफ एक विघटनकारी अभियान चलाया है। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि इन लोगों की भाषा ने आपको चोट पहुंचाई है।

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने ऑडियो ब्रिज के माध्यम से सुरक्षा गार्डों के साथ बातचीत करते हुए कहा कि दुनिया भर में अधिकतम भाषाओं को 'चौकीदार' शब्द समझा है, ऐसा लगता है जैसे वे सभी इसे अपनी शब्दावली में स्वीकार करते हैं।

उन्होंने कहा कि चौकीदार बिना आराम के लगातार ड्यूटी करते हैं। प्रधानमंत्री मोदी की यह शुरुआत ऐसे लोगों के कामों को प्रकाश में लाने की है।

यह 'सबका साथ सबका विकास' सिद्धांत के तहत पंक्ति के अंतिम व्यक्ति तक विकास को पहुंचाने का एक महत्वपूर्ण कदम है।