भोपाल। फिल्म अभिनेता सलमान खान के चुनाव संबंधी ट्वीट पर कांग्रेस ने सफाई दी है। उल्‍लेखनीय है कि सलमान ने कल मध्य प्रदेश में कांग्रेस के चुनाव प्रचार की खबरों को ट्वीट कर खारिज कर दिया था। उन्होंने ट्वीट कर कहा था कि वे न तो वे चुनाव लड़ रहे हैं और न ही किसी राजनीतिक दल के चुनाव प्रचार में जा रहे हैं। इसके बाद प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने कहा है कि पार्टी की उनसे चुनाव प्रचार के लिए बात ही नहीं हुई।

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने लोकसभा चुनाव की तारीखों के एलान से पहले फिल्म अभिनेता सलमान खान से बात की थी। इस बारे में सीएम ने पत्रकारवार्ता में बताया था कि सलमान को उनके मध्य प्रदेश से रिश्ते को याद कराया था और मध्य प्रदेश के विकास में उनका योगदान चाहा था। उन्हें मध्य प्रदेश में पर्यटन प्रमोशन के लिए काम करने का ऑफर भी दिया था। नाथ ने बताया था कि वे आठ अप्रैल से 18 अप्रैल तक मध्य प्रदेश में ही रहेंगे।

मुख्यमंत्री के एलान को चुनाव से जोड़ा गया

मुख्यमंत्री की इस घोषणा को लोकसभा चुनाव से जोड़ते हुए यह प्रचार शुरू हो गया कि सलमान खान को कांग्रेस इंदौर जैसी कठिन सीट से उतार सकती है। इंदौर के कुछ कांग्रेस नेताओं ने सलमान को प्रत्याशी बनाए जाने की मांग भी की। साथ ही यह प्रचार हुआ कि सलमान खान को लोकसभा चुनाव प्रचार के लिए प्रदेश की कुछ सीटों पर कांग्रेस ले जाएगी। हालांकि मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी की तरफ से इसको लेकर कोई कार्यक्रम जारी नहीं किया गया।

बात बढ़ी तो सलमान सामने आए

इस बीच सलमान खान का मांडू का कार्यक्रम जारी हुआ, जिसमें उनके कुछ दिन मांडू में बिताने का जिक्र था। हालांकि यह कार्यक्रम सलमान की एक शूटिंग संबंधी था। इसके बाद यह प्रचार और तेज हुआ कि सलमान कांग्रेस के पक्ष में चुनाव प्रचार करेंगे। फिल्म अभिनेता सलमान ने होली के दिन ट्वीट किया और अटकलों पर विराम लगा दिया।

कांग्रेस ने प्रचार का ऑफर नहीं दिया

मुख्यमंत्री की सलमान खान से बात हुई थी, लेकिन उन्हें मध्य प्रदेश के होने के नाते कुछ योगदान देने कहा था। पर्यटन प्रमोशन की बात की थी, लेकिन उन्हें सरकार की तरफ से अब तक पर्यटन का ब्रांड एम्बेसडर बनाने का ऑफर नहीं दिया। पार्टी की तरफ से भी उन्हें चुनाव प्रचार का ऑफर नहीं दिया गया।

- राजीव सिंह, प्रभारी प्रशासन महामंत्री, मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी