New Delhi Election Result 2019: नई दिल्ली लोकसभा सीट पर इस बार त्रिकोणीय मुकाबला था, लेकिन भाजपा की मीनाक्षी लेखी ने ढाई लाख से ज्यादा वोट से जीत दर्ज की। उन्होंने कांग्रेस ने अजय माकन को हराया, वहीं आम आदमी पार्टी ने बृजेश गोयल तीसरे नंबर पर रहे। 2014 में मीनाक्षी लेखी, अजय माकन, आम आदमी पार्टी के आशीष खेतान और तृणमूल कांग्रेस के दिग्गज अभिनेता विश्वजीत चटर्जी के बीच मुकाबला हुआ था। मीनाक्षी लेखी 46.75% वोटों के साथ सांसद चुनी गई थीं। एग्जिट पोल में भी मीनाक्षी लेखी की जीत के संकेत मिले थे। इस सीट पर 12 मई को मतदान हुआ था। कुल 16.15 लाख वोटर्स में से 56.86 फीसदी ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था।

नई दिल्ली लोकसभा को दिग्‍गजों की सीट कहा जाता है। यह सीट हमेशा भाजपा और कांग्रेस के हाथों में रही है। यहां से अटल बिहारी वाजपेयी, लाल कृष्ण आडवाणी जैसे बड़े नेता सांसद रह चुके हैं। 2004 और 2009 में जब केंद्र में कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए की सरकार थी तब नई दिल्ली ने माकन को अपना जनप्रतिनिधि चुना था। 2009 में भी माकन जीते। उन्होंने भाजपा के विजय गोयल को 1,87,809 वोटों से हराया था। उससे पहले माकन ने ही 2004 में भाजपा के जगमोहन को 12,784 वोटों से शिकस्त दी थी।

इन मुद्दों पर लड़ा गया था इस पार का चुनाव

इस संसदीय क्षेत्र के करोल बाग में सबसे बड़ी समस्या पार्किंग की है। यहां गफ्फार मार्केट, टैंक रोड कपड़ा बाजार मार्केट है। पार्किंग की सुविधा न होने की वजह से यहां अक्सर जाम लगता है। वहीं पटेल नगर विधानसभा क्षेत्र के आनंद पर्वत, पहाड़ी धीरज, थानसिंह नगर में पानी की किल्लत अक्सर रहती है। करोल बाग इलाके में सड़कों में अतिक्रमण अधिक है। इसकी वजह से जाम की समस्या रहती है।