मल्टीमीडिया डेस्क। निर्मला सीतारमन को देश की पहली पूर्णकालिक महिला रक्षामंत्री होने का गौरव प्राप्त है। इससे पहले इंदिरा गांधी ने प्रधानमंत्री पद पर रहते हुए अतिरिक्त कार्यभार के रूप में यह मंत्रालय संभाला था। रक्षामंत्री बनने ले पहले वो वाणिज्य और उद्योग (स्वतंत्र प्रभार) तथा वित्त व कारपोरेट मामलों की राज्य मंत्री रह चुकी हैं।

वह अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार (1998-2004) के दौरान राष्ट्रीय महिला आयोग के लिए नामित हुईं, लेकिन 2004 में यूपीए की सरकार केंद्र में आने के पश्चात उनका कार्यकाल समाप्त हो गया। सुषमा स्वराज, सीतारमण के राष्ट्रीय महिला आयोग में काम करने के तरीके से काफी प्रभावित हुईं जिसके बाद उन्होंने सीतारमण को पार्टी में शामिल होने का प्रस्ताव रखा। 2008 में, वह भाजपा में शामिल हुईं जब उनके पति तेलगु फिल्म स्टार चिरंजीवी की राजनीतिक पार्टी (प्रजा राज्यम) में शामिल हुए।

निर्मला सीतारमन ने 1980 में सीतालक्ष्मी रामास्वामी कॉलेज, तिरुचिरापल्ली, तमिलनाडु से स्नातक की शिक्षा ली और जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय से अंतरराष्ट्रीय अध्ययन विषय में एम.फ़िल. की।

निर्मला सीतारमन प्राइसवॉटरहाउस कूपर्स के साथ वरिष्ठ प्रबंधक (शोध एवं विश्लेषण) के तौर पर भी कार्य कर चुकी हैं। उन्होंने कुछ समय के लिए बीबीसी के साथ भी काम किया है। वह हैदराबाद में स्थित प्रणव स्कूल के संस्थापकों में से एक हैं। निर्मला सीतारमण का जन्म मध्यमवर्गीय तमिल ब्राह्मण परिवार में हुआ। उनका विवाह राजनीतिज्ञ परिवार में हुआ जहां उनकी सास आंध्र प्रदेश में कांग्रेस पार्टी की विधायक थीं जबकि उनके ससुर 1970 के दशक में आंध्र प्रदेश की कांग्रेस सरकार में एक मंत्री थें।