मल्‍टीमीडिया डेस्‍क। केरल के तिरुवनंतपुरम में पीएम मोदी ने चुनावी सभा में कहा कि कांग्रेस के 'नामदार' कहते हैं कि उन्होंने वायनाड से चुनाव लड़ा क्योंकि वह दक्षिण में एक संदेश भेजना चाहते थे।

क्या आप संदेश देने के लिए त्रिवेंद्रम से चुनाव नहीं लड़ सकते थे? यह राजधानी है। यह दक्षिण का संदेश नहीं बल्कि तुष्टिकरण की राजनीति का संदेश है।

संसद में अपना स्थान सुरक्षित करने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष को वायनाड आना पड़ा। वह कहते हैं कि वह भाकपा (मार्क्सवादी) के खिलाफ एक शब्द नहीं बोलेंगे। केरल में कुश्ती, और दिल्ली में दोस्ती, यह इनका खेल है '।

पीएम नरेंद्र मोदी बोले कि ये चुनाव निर्धारित करेंगे कि भारत नियम बनाएगा या उनका पालन करेगा। इसलिए केरल के मतदाताओं के कंधों पर एक बड़ी जिम्मेदारी है, खासकर पहली बार के मतदाताओं की अधिक है।