इंदौर। शहर में ताई के नाम से लोकप्रिय और लोकसभा अध्‍यक्ष सुमित्रा महाजन के इस बार लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने के फैसले को लेकर उनके प्रशंसकों में भावनात्‍मक स्थिति उत्‍पन्‍न हो गई है।

बड़ी संख्‍या में प्रशंसक निवास पर पहुंचे

गुड़ी पड़वा पर बड़ी संख्‍या में उनके प्रशंसक ताई के निवास मनीषपुरी पहुंचे। इन लोगों ने उनसे अपना फैसला बदलने का आग्रह किया। श्रीमती महाजन ने इसे नकारते हुए कहा कि वे अपने निर्णय पर अडिग हैं। उनके निवास पर पहुंचने वाले ज्यादातर ग्रामीण क्षेत्र के पदाधिकारी और कार्यकर्ता ही नजर आए।

ताई बोली-निर्णय रोज नहीं बदला करते

ताई का कहना था कि निर्णय रोज-रोज नहीं बदला करते।जहां तक शहर के विकास की बात है उसके लिए कोई आवश्‍यक नहीं कि सांसद ही हो। साथ ही श्रीमती महाजन ने कार्यकर्ताओं को हिदायत भी दी कि संगठन का इंदौर सीट पर लोकसभा प्रत्‍याशी के लिए जो भी निर्णय हो वह सबको मान्‍य होगा और सभी उसे जिताने के लिए मिलकर कार्य करेंगे।

समर्थकों को गुड़-धनिया भी वितरित किया

इस मौके पर ताई ने अपने समर्थकों को गुड़-धनिया भी वितरित किया। उल्‍लेखनीय है कि आठ बार लगातार इंदौर सीट पर भारतीय जनता पार्टी को जीत दिलाने वाली श्रीमती महाजन ने कल एक पत्र के जरिए स्‍पष्‍ट कर दिया था कि वे इस बार चुनावी मैदान में नहीं उतरेंगी। राजनीति के जानकारों के अनुसार भाजपा की जारी सूचियों में इंदौर सीट पर प्रत्‍याशी का नाम घोषित नहीं होने से भी ताई खिन्‍न थी। वहीं ताई के समर्थकों में पार्टी के शीर्ष नेतृत्‍व को लेकर भी गुस्‍सा देखा गया।

ताई की चिठ्ठी सार्वजनिक होते ही सियासत गरमा गई

बता दें कि सुमित्रा महाजन ने शुक्रवार को एक चिठ्ठी लिखकर लोकसभा चुनाव लड़ने से इंकार कर दिया था। ताई की चिठ्ठी सार्वजनिक होते ही सियासत गरमा गई। आनन-फानन में विधायक रमेश मेंदोला, मालिनी गौड़ और नगर अध्यक्ष उनके घर पहुंचे और इस बारे में चर्चा की। इसी दौरान उन्होंने नगर अध्यक्ष को चुनाव न लड़ने की चिठ्ठी भी सौंपी।