'कलंक' ही वो फिल्म है जिसे श्रीदेवी शुरू करने वाली थीं। बेवक्त हुई उनकी मौत से उन्हें इस 'कलंक' से जुदा कर दिया था। पिछले साल जब श्रीदेवी नहीं रहीं, तब माधुरी दीक्षित को उनका रोल करने के लिए याद किया गया। अब जब इसका टीजर और पहला गाना जारी हुआ है तो श्रीदेवी की बेटी जाह्नवी का भावुक होना और अपनी मां को याद करना स्वाभाविक है।

एक इवेंट में उनसे जब इस बारे में बात की गई तो जाह्नवी भावुक होते हुए बोलीं 'मैं बतौर दर्शक 'कलंक' को देखने के लिए उत्साहित हूं। इस फिल्म का टीजर मैंने देखा है, हर किरदार बेहद खूबसूरत नजर आ रहा है। मैं 'कलंक' जरूर देखूंगी।'

बता दें कि एक हफ्ते पहले करण जौहर ने अपने सोशल अकाउंट पर फिल्म 'कलंक' का प्रचार शुरू किया था। कल इस फिल्म का पहला गाना रिलीज हुआ है। इस गाने के बोल हैं 'घर मोरे परदेसिया'। इसे माधुरी दीक्षित और आलिया भट्ट पर फिल्माया गया है।

कुछ दिन पहले ही इसका टीजर रिलीज हुआ है। बेहद गंभीर ये महसूस हो रही है। हर किरदार एक अलग तरह के तनाव में डूबा नजर आ रहा है। जैसा माहौल चल रहा है, उससे उलट यह टीजर है, मजा-मस्ती इससे छूकर भी नहीं गुजरी है। यह बीते जमाने में ले जाता है और दुनिया से कटा-कटा सा लगता है।

बता दें कि फिल्म की रिलीज डेट बदली गई है और अब यह दो दिन पहले रिलीज होगी। पहले यह फिल्म 19 अप्रैल को लगने वाली थी, अब यह 17 अप्रैल को रिलीज होगी। दरअसल ऐसा दो दिन की छुट्टियों(महावीर जयंति और गुड फ्राइडे) को भुनाने के लिए किया गया है।

वैसे इसके सामने हॉलीवुड की बड़ी फिल्म एवेंजर्स रिलीज हो रही है। करण की टीम को इसकी भारी चिंता है क्योंकि इस फिल्म की पिछली कड़ियों ने भारत में जबरदस्त कमाई की थी।

पहली झलक में आलिया भट्ट और वरुण धवन को एक नाव पर देखा जा सकता है। बताते चलें कि 'कलंक' एक पीरियड ड्रामा है, जो कि 40 के दशक की एक प्रेम कहानी है। इस फिल्म का पहला पोस्टर शेयर करते हुए करण जौहर काफी इमोशनल हो गए और उन्होंने इस फिल्म से जुड़ी कुछ खास यादें फैंस से साथ शेयर की है। कलंक एक मल्टी-स्टारर फिल्म है, जिसमें आलिया भट्ट और वरुण धवन के अलावा माधुरी दीक्षित, आदित्य रॉय कपूर, सोनाक्षी सिन्हा, संजय दत्त और कुणाल खेमू नजर आएंगे। इस फिल्म को अभिषेक वर्मन ने डायरेक्ट किया है।

करण जौहर ने लिखा था

करण ने लिखा था कि, "एक फिल्म जो मेरे दिल और दिमाग में 15 साल पहले से थी... एक ऐसी फिल्म जिस पर मैं विश्वास करता हूं...यह वह आखिरी फिल्म है जिस पर मेरे पिता ने जाने से पहले काम किया था। इस फिल्म को देखना उनका सपना था। मैं उनके सपने को पूरा नहीं कर सका और इस वजह से मेरी आत्मा टूट गई थी। लेकिन, आज उनके सपने और इच्छा को सेल्युलाइड के साथ एक रिश्ता रिश्ता मिल गया है। अशांत रिश्तों और प्रेम की कहानी को एक अवाज मिल गई है। यह फिल्म अभिषेक वर्मन ने विजुअलाइज की है, जिसका नाम है 'कलंक'। इस फिल्म में 40 के दशक की एक कहानी है। मैं उत्साहित हूं... इस बारे में चिंतित और भावुक हूं... मुझे आशा है कि आप इस अमर प्रेम की यात्रा पर हमारे साथ चलेंगे। # KALANK"