अपनी हर फिल्म में खूब मारा-कूटी करने वाले विद्युत जामवाल ने बड़ी बात बोल दी है। उन्होंने कहा है कि बाॅलीवुड में उनसे बेहतर एक्शन किसी एक्टर को नहीं आता है।

वैसे भी जब बात एक्शन की आती है, तो भारतीय फिल्म इंडस्ट्री में कुछ ही नाम ज़हन में आते हैं। इनमें से एक है विद्युत जामवाल, जिनके इलेक्ट्रिफाइंग एक्शन और स्टंट्स ने उन्हें बॉलीवुड में बतौर एक्शन हीरो स्थापित कर दिया है। ख़ास बात ये है कि जहां दूसरे एक्टर्स एक ही इमेज में टाइपकास्ट होने से डरते हैं, वहीं विद्युत को एक्शन हीरो की इमेज से कोई डर नहीं है।

विद्युत का दावा है कि जैसा एक्शन वो कर सकते, कोई भी नहीं कर सकता। विद्युत दावा करते हैं कि उन्होंने कभी अपनी किसी भी फ़िल्म या किसी भी स्टंट के लिए आज तक बॉडी डबल का इस्तेमाल ही नहीं किया है। इस दावे के पीछे उनका तर्क है कि अव्वल तो जो वो करते हैं वैसा एक्शन कोई कर नहीं सकता। इसलिए दर्शक तुरंत पकड़ लेंगे कि बॉडी डबल ने किया है।

विद्युत कहते हैं ''मैं बॉडी डबल एक सीन के लिए भी इस्तेमाल इसलिए नहीं करता, क्योंकि मेरे शरीर की बनावट अलग है, तो कोई वैसा नज़र नहीं आ सकता।'' यह पूछे जाने पर कि लोग उन्हें स्टीरियोटाइप मानने लगे हैं कि वो सिर्फ एक्शन ही कर सकते हैं। इस पर विद्युत बेबाकी से कहते हैं कि इसमें बुराई क्या है, उन्हें स्टीरियोटाइप कहलाने में कोई प्रॉब्लम नहीं है। साथ ही विद्युत यह भी कहते हैं- ''मैं यहां एक्शन करने ही आया था। वही एक चीज है, जिसमें मुझे कोई पकड़ नहीं सकता और एक नॉन फ़िल्मी बैकग्राउंड के लड़के के लिए अपनी विशेषता बनानी तो जरूरी थी।''

विद्युत कहते हैं कि उन्होंने वह जगह बना ली है। उन्होंने बिना किसी स्टार का नाम लिए यह भी स्वीकारा कि अब तक आपने जितनी एक्शन फिल्में देखी हैं, उनमें आपको किसका एक्शन याद रहा है, लेकिन मेरा एक्शन लोग याद करते हैं। मेरी फ़िल्म 'कमांडो 2' में भी आप जरूर कुछ नया एक्शन ही अपने साथ लेकर जायेंगे। विद्युत की फ़िल्म 'कमांडो 2' 3 मार्च को रिलीज़ हो रही है।