अरमान कोहली को आखिरकार मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार कर ही लिया।अरमान के खिलाफ जब उनकी गर्लफ्रेेंड ने शिकायत दर्ज करवाई तब से ही वे पुलिस से बचने के लिए अपने ठिकाने को बार-बार बदल रहे थे। इस कारण मुंबई पुलिस ने उन्हें पकड़ने के लिए 3 टीम का गठन कर दिया था, जो कि अलग-अलग जगहों पर जाकर छापेमारी कर रही थी।

अरमान कोहली और पुलिस के बीच लुका छिपी का खेल एक सप्ताह से जारी था। अरमान कोहली पुलिस से बचने के लिए कभी पुणे, कभी लोनावला तो कभी सोलापुर के बीच में भटक रहे थे। ऐसे में वह अपने वकील और परिवारजनों के संपर्क में रहने के लिए भी हर बार एक नए सिम कार्ड का प्रयोग कर रहे थे। ऐसा ही उन्होंने लोनावला में करने की कोशिश की लेकिन वहां उन्हें एक आदर्श भारतीय नागरिक ने पहचान लिया और अपने जिम्मेदार नागरिक होने का उत्तरदायित्व निभाते हुए अरमान कोहली के बारे में स्थानीय पुलिस को सूचित किया कि अरमान कोहली जो कि फरार है, वह इस समय लोनावला में है। इस जानकारी मिलने के बाद मुंबई पुलिस की एक टीम तुरंत लोनावला के लिए रवाना हुई और उसने मौके पर पहुंचते ही दो घंटे बाद अरमान कोहली को उनके छिपे हुए ठिकाने से गिरफ्तार कर लिया। अरमान कोहली को आज बुधवार मुंबई के कोर्ट में प्रस्तुत किया जाएगा। जहां पर मुंबई पुलिस उनकी कस्टडी की मांग करेगी।

गौरतलब है कि उनकी गर्लफ्रेंड नीरु रंधावा को पीटने के बाद से ही अरमान कोहली फरार थे। करीब 1 सप्ताह से चल रहा यह लुका छिपी का खेल अब जाकर समाप्त हुआ। अरमान कोहली पर उनकी गर्लफ्रेंड को बुरी तरीके से पीटने जैसे गंभीर आरोप लगे हैं। बताया जा रहा है कि उनकी जमानत होना मुश्किल है।