ब्यूटी विद ट्रैजिडी यानी मधुबाला का 14 फरवरी को जन्मदिन हैं। महज 36 साल की उम्र में दुनिया छोड़ चुकी मधुबाला के जीवन के आखिरी 9 साल काफी एकांत में गुजरे थे। वैलेंटाइन डे यानी मोहब्बत के दिन जन्मी मधुबाला बॉलीवुड की सबसे खूबसूरत अदाकाराओं में से एक थीं। बता दें कि, मधुबाला की खूबसूरती की तुलना हॉलीवुड एक्ट्रेस मर्लिन मुनरो से की जाती है।

पहली मुलाकात में दिलीप कुमार को हो गया था उनसे प्यार

दिलीप कुमार और मधुबाला फिल्म 'तराना' के सेट पर पहली बार मिले थे। पहली ही मुलाकात में दिलीप को मधुबाला से प्यार हो गया था। वहीं, मधुबाला भी उन्हें अपना दिल दे बैठी थीं। दोनों की मोहब्बत इतनी मशहूर हुई कि इसके किस्से आज भी सुनाए जाते हैं। कहते हैं कि जब दिलीप और मधुबाला में पहली नजर का प्यार हो गया था। मधुबाला ने ही एक पर्ची और एक गुलाब भेजकर दिलीप से अपने इश्क का इजहार किया था, जिसे दिलीप ने फौरन स्वीकार भी कर लिया था।

जब मधुबाला के पिता को लगी प्यार की भनक

दिलीप और मधुबाला का प्यार परवान चढ़ ही रहा था कि, मधुबाला के पिता अताउल्ला खान को इसकी भनक लग गई। इसके बाद वे अपनी बेटी पर कड़ी नजर रखने लगे। बताया जाता है कि उनकी इस दखलंदाजी की वजह से निर्देशक भी परेशान हो गए थे। निर्देशक बीआर चोपड़ा मधुबाला और दिलीप कुमार को लेकर फिल्म 'नया दौर' की शूटिंग शुरू करने जा रहे थे। इस फिल्म की शूटिंग मुंबई से बाहर भी होनी थी, लेकिन अताउल्ला खान ने साफ कह दिया कि यदि फिल्म मुंबई में शूट नहीं हुई तो मधुबाला फिल्म में काम नहीं करेगी।

कोर्ट पहुंच गया था मामला

विवाद इतना बढ़ गया कि, बीआर चोपड़ा ने मधुबाला को अपनी फिल्म से हटा दिया और उनकी जगह वैजयंतीमाला को ले लिया। इतना ही नहीं बीआर चोपड़ा ने मधुबाला की कट लगी तस्वीर अखबार में छपवा दी, जिसके बाद मामला कोर्ट तक पहुंच गया। दिलीप कुमार को भी गवाही देने के लिए कोर्ट में बुलाया गया, जहां गवाही देते वक्त दिलीप कुमार ने कहा था कि, 'हां, मैं मधु से प्यार करता हूं और करता रहूंगा।'

इस वजह से खत्म हो गया दोनों का रिश्ता

कुछ दिनों बाद ही दिलीप कुमार और मुधबाला की राहें अलग-अलग हो गई। कहते हैं कि दिलीप कुमार मधुबाला के पिता से बहुत नाराज थे। उन्होंने मधुबाला से साफ कह दिया था कि शादी के बाद उन्हें अपने पिता से सारे रिश्ते खत्म करने होंगे। दिलीप कुमार नहीं चाहते थे कि शादी के बाद मधुबाला फिल्म में काम करें। मधुबाला को दिलीप कुमार की दोनों ही शर्त मंजूर नहीं थी, इस वजह से उनके रिश्ते में दरार आ गई और दोनों अलग हो गए। रिश्ता खत्म होने के बाद दोनों ने फिल्म 'मुगल-ए-आजम' की शूटिंग पूरी की, लेकिन हालात इतने बिगड़ गए थे कि दोनों सेट पर एक-दूसरे से बात भी नहीं करते थे।

किशोर कुमार से की थी शादी

वर्ष 1960 के दशक में मधुबाला ने किशोर कुमार से शादी कर ली। शादी से पहले किशोर कुमार ने इस्लाम धर्म कबूल किया और नाम बदलकर करीम अब्दुल हो गए। शादी के बाद वे अचानक बीमार रहने लगी। लंदन में जांच के बाद पता चला कि मधुबाला के दिल में छेद है। लंदन के डॉक्टर ने कह दिया कि मधुबाला दो साल से ज्यादा जीवित नहीं रह सकतीं। वर्ष 1969 में उन्होंने फिल्म 'फर्ज' और 'इश्क' का निर्देशन करना चाहा, लेकिन यह फिल्म नहीं बनी। इसी वर्ष अपना 36वां जन्मदिन मनाने के नौ दिन बाद 23 फरवरी,1969 को मधुबाला ने दुनिया को अलविदा कह दिया।