अहमदाबाद। गुजरात के मेहसाणा जिले की कलेक्टर कार्यालय में कार्यरत एक सरकारी कर्मचारी ने कार्यालय के शौचालय में ही पेपर काटर से गले पर वार कर आत्महत्या कर ली । मृतक की दो महीने बाद शादी होनेवाली थी। पुलिस को शव के पास दो लाइन का एक सुसाइट नोट मिली। जिसमें लिखा है कि उसकी मौत के बाद किसी को परेशान ना किया जाये।

ए डीविजन पुलिस थाने के प्रभारी एम.एन.राठोड ने बताया कि मृतक की पहचान वासु देवशंकर रावल के रुप में हुई है। वह वडनगर का रहनेवाला है। पिछले 10 साल से वह जिला रोजगारी विनिमय कार्यालय में क्लार्क के तौर पर कार्यरत था। पुछताछ के मुताबिक रोज की तरह सोमवार सुबह 10 बजे वह काम पर आया था। दोपहर को भोजन करने के बाद वह शौचालय गया था।

काफी देर तक नहीं आने से सह कर्मचारियों ने शौचालय में जाकर देखा तो वह लहुलूहान अवस्था में बेहोश पड़ा था। जिसके बाद हेल्पलाइन 108 एम्बुलंस तथा पुलिस को सूचना दी गई।। हालाकि 108 टीम के पहुंचने के पहले ही उसकी मौत हो गई थी। पुलिस ने बताया कि मृतक ने आफिस में इस्तमाल होते पेपर कटकर से अपना गला काट लिया था। मृतक ने आत्मह्त्या करने के पहले दो लाइन की सुसाइट नोट भी लिखी है।

हालाकि इसमें आत्महत्या के कारण पता नहीं चल पाया। आरोपी को परिजनों से पुछताछ में पता चला कि दो महीने बाद उसकी शादी होने वाली थी। लेकिन पिछले कई दिनों से वह परेशान नजर आ रहा था। पुलिस का मानना है कि प्रेम प्रकरण के चलते उसने आत्महत्या की है। शव को पोस्टमोर्टम के लिए भेज करउसके फोन कॉल की डिटेल की जांच की जा रही है।