अहमदाबाद। अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के मुद्दे को राष्ट्रीय गौरव का बताते हुए योग गुरु रामदेव ने कहा कि भगवान राम न केवल हिंदुओं बल्कि मुस्लिमों के भी पूर्वज थे।

अहमदाबाद से करीब 70 किलोमीटर दूर खेडा जिले के नाडियाद कस्बे में योग गुरु ने शुक्रवार को कहा कि राम मंदिर मुद्दा वोट बैंक की राजनीति से नहीं जुड़ा है। वह संतराम मंदिर की ओर से आयोजित योग शिविर में हिस्सा लेने के लिए नाडियाद आए थे।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, "मैं गहरे तौर पर मानता हूं कि अयोध्या में निश्चित रूप से मंदिर बनना चाहिए। यदि अयोध्या में नहीं तो फिर आप कहां बनाएंगे? जाहिर है कि यह मक्का, मदीना या वेटिकन सिटी में तो नहीं बन सकता।"

उन्होंने कहा, "यह निर्विवाद सत्य है कि अयोध्या भगवान राम का जन्म स्थान है। केवल हिंदू ही नहीं राम मुस्लिमों के भी पूर्वज थे। राम मंदिर का मुद्दा राष्ट्रीय गौरव का है। वोट बैंक की राजनीति से इसका कोई लेनादेना नहीं है।"

विपक्षी कांग्रेस ने रामदेव पर यह कहते हुए हमला किया कि उनके जैसे धार्मिक नेता सत्ताधारी भाजपा से लाभ उठाते हैं। वे ऐसा बयान उस पार्टी को चुनाव में विजयी बनाने के लिए दे रहे हैं।