विदिशा। छींद दरवार पदयात्रा मंडल द्वारा 24 फरवरी को छींद दरबार एवं मां नर्मदा यात्रा शुरू की जाएगी।इसके लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू हो गई है। 27 फरवरी छींद में हनुमान जी महाराज को ध्वज भेंट कर सुंदरकांड और भंडारा किया जाएगा। यात्रा के बीच में जगह-जगह जल संरक्षण,पालीथिन पर प्रतिबंध, नशामुक्त समाज, गौपालन,जैविक खेती आदि पर कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।

सूने आवास में 45 हजार की चोरी

विदिशा। ग्यारसपुर थाना अंतर्गत एक सूने आवास में 45 हजार रुपए से ज्यादा की चोरी होने का मामला सामने आया है।फरियादी की शिकायत पर पुलिस ने अज्ञात बदमाश के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है। थाने से मिली जानकारी के अनुसार ग्राम ओलीजा निवासी राजू सेन ग्राम बिलराई में अपने रिश्तेदार के यहां दस्टोन के कार्यक्रम में शामिल होने गया था। सुबह जब आया तो उसके घर के ताले टूटे मिले। 30 हजार रुपए नगद सहित 15 हजार रुपए के जेवर चोरी होने की बात कही जा रही है। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

नल जल योजनाओं में लापरवाही पर सीएस ने पीएचई के कार्यपालन यंत्री को हटाया

विदिशा। प्रदेश के मुख्य सचिव बसंत प्रतापसिंह द्वारा आयोजित परख वीडियो कान्फ्रेंसिंग में जिले में नल जल योजनाओं की खराब स्थिति से नाराज होकर उन्होंने पीएचई के कार्यपालन यंत्री अजय दिवाकर को हटा दिया है। उन्हें भोपाल में प्रमुख सचिव कार्यालय में अटैच किया गया है। उनके स्थान पर बासौदा में पदस्थ अस्सिटेंट इंजीनियर गौरव सिंघई को अस्थाई चार्ज दिया गया है। सूत्रों के अनुसार दिवाकर को हटाने की वजह उनके ऊपर भ्रष्टाचार के लगे आरोपों को भी बताया जा रहा है।

मालूम हो कि कुछ दिन पहले ही पीएचई के ईई अजय दिवाकर पर कान्ट्रेक्ट यूनियन लोक स्वास्थ्य यांत्रिकीय विभाग द्वारा भ्रष्टाचार सहित 8 सूत्रीय आरोपों से संबंधित ज्ञापन सौंपा था। यूनियन के यशोवर्धन शर्मा ने बताया है कि दिवाकर के पदस्थ होते ही जिले की स्थिति बद् से बद्तर हो गई थी। बगैर कमीशन के कहीं कोई काम नहीं हो रहे थे। उनके पहले जिला पहले नंबर था। लेकिन उनके आते ही सभी तरह के काम लगभग रूक गए थे। यहां तक कि टेंडर तक वह अपने चहेते लोगों को दिलाते थे। पाईप लाइन उनकी पसंद की कंपनी के पाइप खरीदने पड़ते थे। जिससे परेशान होकर सभी तरह के ठेकेदार और कर्मचारियों ने काम बंद कर मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन दिया था। शर्मा के मुताबिक ईई पर 8 बिदुओं पर जांच चल रही थी। उनके मुताबिक कार्यपालन यंत्री की कार्यशैली के कारण विकास कार्य प्रभावित हो रहे थे। नल जल योजनाएं भी ठप्प पड़ी हुई थी। इधर, विभागीय सूत्रों के अनुसार परख में नल जल योजनाओं की समीक्षा के दौरान सागर, टीकमगढ़ और विदिशा जिले की स्थिति काफी खराब पाई गई है। जिस पर सीएस ने कार्यवाही करते हुए कार्य को गति देने के निर्देश दिए हैं।

फांसी लगाकर युवक ने की आत्महत्या

विदिशा। सिरोंज थाना अंतर्गत ग्राम सीपीखेड़ी में एक युवक ने अज्ञात कारणों के चलते फांसी लगा ली जिससे उसकी मौत हो गई। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच में लिया है। थाने से मिली जानकारी के अनुसार भंवर लाल अहिरवार के 25 वर्षीय पुत्र रन्जीतसिंह ने बादशाह कुरेशी के खेत स्थित बबूल के वृक्ष पर फांसी लगाई है। फांसी लगाने का कारण फिलहाल अज्ञात बताया जा रहा है। पुलिस ने शव का पीएम कराकर परिजनों को सौंप दिया है।

इमलिया में अवैध बजरी ले जाते दो ट्रैक्टर-3 ट्रॉली जब्त

विदिशा। मुखबिर की सूचना पर गुरूवार को राजस्व विभाग की टीम ने ग्राम इमलिया स्थित बेस नदी पहुंचकर अवैध रुप से ले जाई जा रही बजरी सहित 2 ट्रैक्टर और 3 ट्रॉली जब्त की हैं। टीम के पहुंचने से पहले वहां से पनडुब्बी आदि हटा दी गई थी। इस दौरान दो ड्रायवरों को भी हिरासत में लिया गया है। एसडीएम रविशंकर राय ने बताया कि सूचना मिली थी कि इमलिया में अवैध रुप से बजरी का कारोबार चल रहा है। इसके बाद तहसीलदार राजीव कहार,पटवारी आदि मौके पर पहुंचे और दो ट्रैक्टर और तीन ट्रालियां जब्त कर ली है। मौके पर करीब 50 ट्रॉली बजरी का स्टाक मिला है। बाद में खनिज विभाग की टीम को भी मौके पर बुलाकर मामले बनाने के निर्देश दिए गए हैं।