आगर-मालवा। समीपस्थ ग्राम निपानिया बैजनाथ में जारी रामलीला मंचन के दौरान चौथे दिन मंगलवार रात को मंचन रोमांचक किरदार के साथ किया गया। सीता की खोज में निकले राम-लक्ष्मण का सबरी आश्रम में विश्राम व सबरी के प्रेम को देखते हुए उसे भक्ति का वरदान भगवान ने दिया। उपरांत पम्पापुरी में सुगीव से मुलाकात की। यहां बाली के कूचरित्र और आतंक की जानकारी भगवान को लगी। यहां सुग्रीव व बाली का युद्घ हुआ। इसमें भगवान ने बाली का वध किया।

17एजीआर 16 - आगर के निपानिया में रामलीला का मंचन करते गांव के कलाकार।

टिल्लर डेम से रुकी पानी की सप्लाय शुरू , जलप्रदाय में मिली राहत

आगर-मालवा। नगर में सप्ताहभर से जलप्रदाय व्यवस्था टिल्लर डेम से पानी की सप्लाय रुक जाने से अधिक गड़बड़ा गई थी। डेम से नगर तक सप्लाय 16 अप्रैल देर शाम से शुरू कर दी गई। इससे शहर के कई हिस्सों में जलप्रदाय में राहत मिली। 18 अप्रैल से छावनी क्षेत्र में भी आ रही दिक्कत में राहत मिलना शुरू हो जाएगी।

नगर में एक दिन छोड़कर जलप्रदाय झोनवार किया जाता है। इसके लिए प्रतिदिन 25 लाख लीटर पानी का संग्रह टंकियों में करते हुए नलों द्वारा पानी की सप्लाय घर-घर की जाती है। टिल्लर डेम पर बनी नपा की पेयजल आवर्धन योजना अंतर्गत डेम के जमा पानी में कमी आने से सप्ताहभर से सप्लाई नहीं हो पा रही थी। इसका वैकल्पिक उपाय डेम के डेड स्टोरेज पानी क्षेत्र में ही नगर पालिका द्वारा किया गया। यह तकनीकी कार्य अब जाकर पूरा हुआ है। इसकी वजह से 17 अप्रैल को काशीबाई कॉलोनी व आसपास के क्षेत्र में तथा विवेकानंद कॉलोनी ने नलों से करीब आधा घंटे जलप्रदाय किया गया। छावनी क्षेत्र के लिए गांधी उपवन में बने जलप्रदाय केन्द्र की टंकी के लिए भी टिल्लर डेम की इस पाइप लाइन से पानी की सप्लाय 17 अप्रैल देर शाम शुरू कर दी गई है। ऐसे में अब छावनी क्षेत्र की बिगड़ी जलप्रदाय व्यवस्था में भी सुधार हो जाएगा।

बसंत गुप्ता आगर

17 4 2019