मतगणना शुरू होने तक एग्जिट पोल की ही चर्चा

- दोनों विधानसभाओं की गणना के लिए 14-14 लगाई गई है

आलीराजपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

लोकसभा चुनाव की मतगणना के लिए महज एक दिन बचा है। तीन दिन पहले विभिन्न सर्वे में एग्जिट पोल के परिणाम दिखाए जा रहे हैं, उसे लेकर जिले में राजनीतिक हलचल तेज हो गई है। चर्चाओं ने फिर से जोर पकड़ा है तथा जीत और हार के दावे के बीच राजनीतिक सरगर्मी फिर से बढ़ गई है। छह महीने पहले हुए विधानसभा के चुनाव के बाद कांग्रेस के पक्ष में मिले परिणाम का ही लोकसभा चुनाव में पुनरावृत्ति होने की बात कांग्रेसी कह रहे हैं। वहीं भाजपाई इस बार मोदी के बल पर चुनाव जीतने की बात कह रहे हैं। इतना ही नहीं, एनडीए को पूर्ण बहुमत मिलने को लेकर आश्वस्त हैं। साथ ही भाजपाई 2014 की पुनरावृति फिर से मप्र में होने की बात कह रहे हैं। लोकसभा के परिणाम तथा सर्वे में मिले आंकड़े के बाद भाजपाइयों में एक तरह से खुशी की लहर भी देखी जा रही है। बहरहाल, इन तमाम दावे प्रति दावे के बीच अब सबकी निगाहें गुरुवार पर टिकी हुई है।

विधानसभावार होगी मतगणना

वोटों की गिनती के लिए जिला प्रशासन द्वारा तैयारियां लगभग पूर्ण कर ली गई हैं। मतगणना विधानसभावार की जाएगी। दोनों विधानसभा क्षेत्र की मतगणना अलग-अलग हॉल में की जाएगी। मतगणना सुबह आठ बजे से शासकीय कॉलेज में शुरू हो जाएगी। मतगणना को लेकर सुरक्षा बलों की तैनाती कर दी गई है। स्ट्रांग रूम में अर्द्घसैनिक बल भी लगाए गए हैं। दोनों विधानसभा के लिए 14-14 टेबल गणना के लिए बनाई गई हैं। सबसे पहले पोस्टल मत पत्रों की गिनती की जाएगी। इसके बाद विधानसभा वार गिनती शुरू होगी। यहां राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के लिए एक कमरे की व्यवस्था की गई है।

अंतिम परिणाम घोषित होने में हो सकता है विलंब

चुनाव आयोग ने इस बार ईवीएम के वोट गिनने के बाद हर विधानसभा के कि सी पांच मतदान कें द्रों के वीवीपैट के स्लिप की गिनती करने के भी निर्देश दिए हैं। लिहाजा वीवीपैट की गिनती में समय लगने की संभावना है। वीवीपैट के मिलान के बाद ही आधिकारिक परिणाम जारी कि ए जाएंगे। इस कारण आधिकारिक परिणाम शाम छह बजे के बाद जारी होने की संभावना है।

एक बार प्रवेश के बाद नहीं आ-जा सकें गे एजेंट

मतगणना के दौरान जो गणना एजेंट के रूप में पहुंचेंगे उन्हें बार-बार स्टेडियम से बाहर आने एवं फिर से वापस अंदर प्रवेश की परमिशन नहीं रहेगी। अधिकारियों ने बताया कि गणना एजेंट के एक बार प्रवेश करने के बाद उसे स्टेडियम के बाहर आने की परमिशन नहीं रहेगी। यदि बार-बार अंदर बाहर की कोशिश की जाएगी तो उसे प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा। विशेष परिस्थितियों में ही उन्हें बाहर आने दिया जाएगा। इसके अलावा गणना स्थल पर मोबाइल, कै मरे ले जाना मना है। यदि इसके बाद भी कोई लेकर जाता है तो उसे बाहर कर दिया जाएगा। मतगणना स्थल पर प्रवेश के लिए एजेंटों को विधानसभावार अलग-अलग कलर के पास दिए जाएंगे।

ईवीएम में गड़बड़ी पर नहीं रुके गी काउंटिंग

कि सी विधानसभा क्षेत्र में यदि गणना के दौरान ईवीएम में कोई दिक्कत आ रही है तो उसके लिए गिनती को बीच में नहीं रोका जाएगा, बल्कि उस ईवीएम को वहां से हटाकर अलग रख दिया जाएगा। खराब होने वाली ईवीएम के वोटों की गिनती की बजाए फिर अंत में उस केंद्र के वीवीपैट के वोटों को गिना जाएगा। वीवीपैट के मतों की गिनती के आधार पर परिणाम घोषित कि या जाएगा।

मतगणना व्यवस्थाओं का ड्रॉय रन हुआ

मतगणना कार्यों की व्यवस्थाओं का ड्रॉय रन मंगलवार को हुआ। जिसके तहत तैयारियों और व्यवस्थाओं का जायजा कलेक्टर शमीमउद्दीन ने लिया। मतगणना कार्य के लिए कॉलेज परिसर में तैयारियां व्यापक स्तर पर की जा रही है। कड़े सुरक्षा प्रबंधों के बीच मतों की गणना का कार्य होगा। ड्रॉय रन में कलेक्टर ने सारी व्यवस्थाओं का एक-एक कर निरीक्षण कि या व आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने स्ट्रॉन्ग रुम का निरीक्षण कि या। मतगणना केंद्र की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इसके बाद आलीराजपुर और जोबट विधानसभा क्षेत्र के मतों की गणना की जानकारी की रिपोर्ट निर्वाचन आयोग को भेजने की रिपोर्टिंग कंट्रोल रुम की व्यवस्थाओं का निरीक्षण कि या व निर्देश दिए।

21एएलआई 17 - आलीराजपुर में मतगणना के ंद्र पर व्यवस्थाओं का जायजा लेते हुए कलेक्टर।