(लीड) खबर

अपराध - बरझर में हुई लाखों की चोरी के आरोपित अभी भी पुलिस गिरफ्त से दूर

आलीराजपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

जिले में अपराधियों के हौसले बुलंद है। बिना कि सी डर के अपराधी हत्या तक को अंजाम दे रहे हैं। बीते पंद्रह दिनों में जिले में करीब आधा दर्जन हत्या के मामले सामने आ चुके हैं। हत्या के अलावा बरझर में हुई लाखों की चोरी मामले में भी पुलिस के हाथ खाली ही है। रविवार को कट्ठीवाड़ा में दो युवकों की गला काट कर हत्या कर दी गई। अपराध पर अंकु श को लेकर पुलिस अफसरों का कहना है कि पूर्व के मामलों में भी दोषियों को पकड़ा जा चुका है। कट्ठीवाड़ा क्षेत्र में हुई हत्या में लिप्त आरोपित भी जल्द ही पुलिस गिरफ्त में होंगे।

कु छ दिनों पहले नानपुर थाना क्षेत्र में एक ही दिन में डबल मर्डर का मामला सामने आया था। इसके अलावा जोबट क्षेत्र सहित जिले के अन्य स्थानों पर हत्या के मामले बीते पंद्रह दिनों में सामने आ चुके हैं। बरझर में हुई लाखों रुपए की चोरी में भी बदमाशों का अभी तक कोई सुराग नहीं लगा है। मामले में पीड़ित परिवार ने प्रभारी मंत्री को ज्ञापन भी सौंपा था और जल्द आरोपितों को पकड़ने की मांग की थी। जिले में बदमाशों के हौसले बुलंद है। चोरी के साथ ही अन्य अपराध में इजाफा हुआ है। इससे पुलिस की कार्य प्रणाली भी सवालों के घेरे में है। जिले में अवैध शराब के परिवहन पर भी अंकु श नहीं लग पा रहा है। दो-तीन दिन पहले ही नानपुर पुलिस ने एक गाड़ी अवैध शराब पकड़ी थी। गुजरात तक बिना कि सी रोकटोक के शराब का अवैध परिवहन हो रहा है। इसके अलावा जिले में बिना परमिट अवैध रूप से बसों का संचालन धड़ल्ले से कि या जा रहा है। पिछले दिनों जिला योजना समिति की बैठक में प्रभारी मंत्री के निर्देश के बाद आजादनगर और कट्ठीवाड़ा में अवैध रूप से संचालित हो रही यात्री बसों पर कार्रवाई की गई मगर सिर्फ औपचारिकता के लिए क्योंकि बड़ी संख्या में रोजाना बसों का संचालन हो रहा है और कार्रवाई महज सिर्फ दो बसों पर ही की गई है। आलीराजपुर में तो एक भी बस पर परिवहन अधिकारी और ट्रैफिक अमले ने कार्रवाई नहीं की है।

आईईडी बम के आरोपित नहीं मिले

भगोरिया पर्व के समय छकतला के गोला पल्लवी गांव में मिले आईईडी बम की गुत्थी पुलिस अभी तक नहीं सुलझा सकी है। एटीएस के अधिकारी भी यहां रहे लेकि न उनके हाथ भी कु छ नहीं लगा। समय के साथ मामला अब ठंडे बस्ते में चला गया है। बम कहां से आया था, कि सने रखा था इन सवालों के जवाब पुलिस को नहीं मिले है। हालांकि पुलिस द्वारा मामले में जांच की बात कही जा रही है मगर कोई ठोस सुराग हाथ नहीं लगने के कारण अधिकारी कु छ भी बता पाने की स्थिति में नहीं है।

ये सही बात है कि बीते कु छ दिनों में हत्या के कई मामले सामने आ चुके है, लेकि न सभी में आरोपितों को पकड़ लिया गया है। पारिवारिक रंजिश के चलते अधिकांश हत्याएं हुई है। कट्ठीवाड़ा में हुई दो युवकों की हत्या में भी जल्द ही आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

- विपुल श्रीवास्तव, एसपी आलीराजपुर