बालाघाट (नईदुनिया प्रतिनिधि)।

मध्य प्रदेश में व्यावसायिक शिक्षा व उद्योगों को तकनीकी मानव संसाधन प्रदान करने में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थाओं की एक अहम भूमिका है। व्यावसायिक शिक्षा व कौशल विकास के द्वारा युवा बेरोजगारों को रोजगार के बेहतर अवसर उपलब्ध हो रहे हैं। युवाओं में आईटीआई के प्रति रुचि बढ़ाने व जन जागृति के लिए शासन के द्वारा प्रभावी प्रयासों के तारतम्य में दो अप्रैल से 30 अप्रैल तक प्रदेश व जिले की आईटीआई में रोजगार की पढ़ाई, चलें आईटीआई अभियान शुरू किया गया है। जिसमें जिले के8वीं, 9वीं या 10वीं उत्तीर्ण या ड्रॉप आउट छात्रों को अधिक से अधिक लाभान्वित कराने के लिए जानकारी उपलब्ध कराई जा रही है।

कृषि मंत्री करेंगे शुभारंभ

कार्यक्रम का शुभारंभ दिनांक 19 अप्रैल को गौरीशंकर बिसेन, कृषि मंत्री के मुख्य आतिथ्य में होगा। कार्यक्रम के साथ उत्तीर्ण आईटीआई प्रशिक्षणार्थियों व अन्य के लिए रोजगार, स्वरोजगार मेले का भी आयोजन किया जा रहा है। जिसमें तकनीकी शिक्षा एवं रोजगार, स्वरोजगार संबंधी विस्तृत जानकारियां प्रदाय की जाएंगी। बता दें कि मेले में प्रतिष्ठित औद्योगिक प्रतिष्ठान (कंपनियां) प्लेसमेंट के लिए आ रही हैं।

-----

जिले में मतदाता सूची के शुद्धिकरण का कार्य शुरू

बालाघाट (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिले में मतदातासूची के शुद्धिकरण का कार्य सोमवार 16 अप्रैल से प्रारंभ हो गया है। मतदाता सूची के शुद्धिकरण का कार्य बीएलओ द्वारा अपने प्रभार से संबंधित मतदान केन्धों में कैंप लाकर किया जाएगा । आगामी 15 मई तक चलने वाले इस कार्य के तहत 18 वर्ष की आयु पूर्ण कर चुके युवाओं तथा पात्र मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में जुड़वाने के लिए निर्धारित प्रारुप (फार्म-6) भरवाये जाएंगे ।

जिला निर्वाचन कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार मतदाता सूची के शुद्धिकरण कार्य में बीएलओ द्वारा अनुपस्थित, स्थानांतरित व मृत मतदाताओं का सत्यापन भी किया जाएगा तथा पंचनामा तैयार कर संबंधित निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी को प्रतिवेदन सौंपा जाएगा। निर्वाचक रजिष्ट्रीकरण अधिकारियों को ऐसे मतदाताओं की सूची अपने कार्यालय के सूचना पटल पर चस्पा करनी होगी ताकि इस बारे में प्राप्त आपत्तियों का वैधानिक तौर पर निराकरण किया जा सके। निर्वाचक रजिष्ट्रीकरण अधिकारियों को अनुपस्थित, स्थानांतरित व मृत मतदाताओं की सूची जिला निर्वाचन कार्यालय को भी भेजनी होगी । जिला निर्वाचन कार्यालय के मुताबिक सभी निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों को बीएलओ के माध्यम से अनुपस्थित, स्थानांतरित व मृत मतदाताओं की सूची का प्रकाशन मतदान केन्धवार करने के निर्देश भी दिए गए है और दर्ज आपत्तियों का वैधानिक निराकरण 19 अप्रैल तक करने कहा गया है। मतदाता सूची के शुद्धिकरण के कार्य के तहत निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों को सामाजिक न्याय विभाग से दिव्यांगों की सूची प्राप्त करना होगी ताकि ऐसे पात्र दिव्यांगों के नाम मतदाता सूची में शामिल किये जा सकें, जिनके नाम सूची में शामिल नहीं हैं। निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों से अपने क्षेत्र में स्थित हायर सेकेण्डरी स्कूल व महाविद्यालयों के प्राचार्यों की बैठक लेने भी कहा गया है ताकि 18 वर्ष से अधिक आयु के छात्र-छात्राओं के नाम भी मतदाता सूची में जोड़ने की कार्रवाई की जा सके।

----