बालाघाट, नईदुनिया प्रतिनिधि। महाराष्ट्र के वर्धा से ओडिशा-बिहार जा रही डेटोनेटर की भारी खेप बालाघाट में पुलिस ने पकड़ी है। पिकअप वाहन 30 हजार डेटोनेटर लेकर बालाघाट से होकर मलाजखंड-बिरसा के रास्ते छत्तीसगढ़ की ओर जा रहा था। डेटोनेटर जब्त कर मलाजखंड पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

पुलिस के मुताबिक डेटोनेटर महाराष्ट्र से ओडिशा और बिहार किसी माइंस में जाने थे। पुलिस चालक रामनरेश शुक्ला निवासी कुबेरा जयसिंहनगर शहडोल, कृष्ण निवासी गढ़ा वर्धा और उसके एक और साथी से पूछताछ कर रही है।

बालाघाट नक्सल प्रभावित एरिया, इसलिए हो रही कड़ी जांच

महाराष्ट्र के वर्धा से ओडिशा जा रहा वाहन क्रमांक एचआर 38 एक्स 1798 बालाघट कैसे पहुंचा, वाहन रास्ता भटककर डेढ़ सौ किमी बालाघाट की सीमा तक कैसे आ गया, इसकी जांच पुलिस कर रही है। इतनी बड़ी मात्रा में डेटोनेटर की खेप नक्सल प्रभावित इलाके से जा रही थी। यह नक्सलियों के हाथ लग गई होती तो कई राज्यों में नक्सलियों का आतंक बढ़ जाता।

बालाघाट नक्सली गतिविधियों को लेकर संवेदनशील है। यहां से डेटोनेटर की खेप लेकर वाहन का जाना बेहद खतरनाक साबित हो सकता था। पुलिस ने परमिट उल्लंघन और विस्फोटक अधिनियम के तहत केस दर्ज किया है। - अमित सांघी, एसपी बालाघाट