बालाघाट। 4 अप्रैल की रात बस स्टैंड के समीप स्थित डाकघर के सामने खड़ी कौशल ट्रैवल्स की बस गायब हो गई थी। बस संचालक को इस बात की जानकारी उस वक्त लगी जब सुबह के वक्त पादरीगंज जाने वाली बस का नंबर लगा और बस मिली ही नहीं। पुलिस में की थी शिकायत कौशल ट्रैवल्स की बस नहीं मिलने के बाद इसके गुम होने की शिकायत ट्रैवल्स के संचालक श्याम कौशल ने कोतवाली थाने में दर्ज कराई।

शिकायत के आधार पर पुलिस ने बस चोरी होने के मामले में अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर मामले को विवेचना में लिया था। स्कूल के पास बस खड़ी होने की मिली थी सूचना मामले की विवेचना कर रही कोतवाली पुलिस को सूचना प्राप्त हुई कि बालाघाट बस स्टैंड से गुम हुई बस क्रमांक एमपी 50 पी 0343 रामपायली के स्कूल के समीप खड़ी है। जिसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर बस को बरामद किया और कौशल ट्रैवल्स के ही हेल्पर को इस मामले में पकड़कर पूछताछ की तो उसने बस को चुराने की बात कबूल की।

जरुरत के चलते की चोरी-

कोतवाली थाना प्रभारी प्रशांत यादव ने बताया कि पकड़ाए गए हेल्पर साल्हे निवासी अजय (19) पिता नंदकिशोर परिहार ने पूछताछ में बताया कि उसको रुपयों की जरुरत थी जिसके कारण ही वह बस को चुराकर बेचने के लिए नागपुर लेकर जा रहा था। लेकिन रामपायली में डीजल खत्म होने के कारण उसे स्कूल के पास ही छोड़ दिया था। कोतवाली पुलिस द्वारा की गई इस कार्रवाई में एसआई राजेन्द्र रैकवार, शैलेष गौतम, गजेन्द्र माटे समेत अन्य स्टॉफ शामिल रहा।

बस स्टैंड से चोरी हुई थी कौशल ट्रैवल्स की बस, पुलिस ने बस को जब्त कर हेल्पर को किया गिरफ्तार कौशल ट्रैवल्स की बस चोरी होने की शिकायत पर तफ्दीश के दौरान रामपायली थाना क्षेत्र के स्कूल के समीप खड़ी बस को जब्त करने के साथ ही इसे चुराने वाले हेल्पर को भी गिरफ्तार कर लिया गया हैं। -प्रशांत यादव टीआई, कोतवाली