ग्वालियर। नईदुनिया प्रतिनिधि

लाल टिपारा में आर्मी के जंगल में शुक्रवार को महिला का शव जली अवस्था में मिला था। आधी रात को मुरार थाने में गुमशुदगी दर्ज कराने पहुंचे बेटे योगेंद्र ने गहने देखकर शव की शिनाख्त मां सरला पवैया के रूप में की। उसका कहना है मां की कुछ दिनों से मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी। पुलिस को मौके पर माचिस के 2 पेकेट व जली हुई तीलियां मिलीं थीं। पुलिस उलझन में है कि महिला ने मानसिक स्थिति ठीक नहीं होने के चलते आग लगाई है तो मौके पर कोई ज्वलनशील पदार्थ क्यों नहीं मिला। पुलिस सवालों को सुलझाने पड़ताल में जुटी है।

जंगल में महिला का जला हुआ शव पड़े होने की सूचना पुलिस को क्षेत्रीय पार्षद ने दी थी। महिला का शव पूरी तरह से जला हुआ था। केवल गले में चेन, कान में टॉप्स व पैरों में बीछिए नजर आ रहे थे। पुलिस ने शुरुआती जांच के बाद शव को शिनाख्ती के लिए डेड हाउस में सुरक्षित रखवा दिया।

आधी रात को बेटा गुमशुदगी दर्ज कराने थाने पहुंचाः शुक्रवार आधी रात को संकट मोचन नगर प्रसादीपुरा निवासी योगेंद्र पुत्र भूपेंद्र पवैया अपने परिचितों के साथ मुरार थाने में मां सरला पवैया की गमुशुदगी दर्ज कराने पहुंचा। उसने बताया, मां की कुछ दिनों से मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। सुबह 10 से 11 बजे के बीच घर से निकली है। अभी तक वापस नहीं लौटी। काफी तलाशने के बाद उनका कुछ पता नहीं चला। पुलिस ने उसे महिला के शव से मिले गहने दिखाए तो योगेंद्र ने बोला ये तो मां के हैं, क्या हुआ मां को? पुलिस ने उसे जंगल में जला हुआ शव मिलने की बात बताई।

7 साल पहले हो चुका है पिता का देहांतः योगेंद्र ने बताया पिता भूपेंद्र पवैया का 7 साल पहले रोड एक्सीडेंट में देहांत हो चुका है। बड़े भाई-बहन भी मानसिक रूप से थोड़े कमजोर हैं। पिता के देहांत से एक साल पहले ही मां की मानसिक स्थिति भी बिगड़ गई। लेकिन पिछले एक साल से ठीक थीं। अभी 2-3 महीने से फिर से उनकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी। कभी घर से नहीं निकलती थीं। दोपहर को 2 हजार रुपए लेकर घर से निकल गईं थी। उसकी किसी से कोई रंजिश नहीं है। मृतका का पिता जगदीश निवासी शिवपुरी ने स्वीकार किया कि उनकी बेटी की मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी। कुछ दिन पहले परिवार के साथ बालाजी भी गई थी।

काल्पी ब्रिज पर गईं थी पेट्रोल लेने- काल्पी ब्रिज स्थित पेट्रोल पंप पर पूछताछ करने पर पता चला कि महिला कट्टी में पेट्रोल लेने के लिए आई थी। लेकिन पेट्रोल लेकर गई या नहीं यह साफ नहीं है। पेट्रोल पंप पर सीसीटीवी कैमरे भी नहीं लगे हैं।

पुलिस के सामने यह सवाल-

- महिला की मौत जलने से हुई या पहले? इसका जवाब पुलिस को पीएम रिपोर्ट से मिल जाएगा।

- मौके पर कोई ज्वलनशील पदार्थ नहीं मिला, घर में नही रखा था, फिर शरीर में आग कैसे लगाई? पुलिस पड़ताल कर पता लगा रही है।