ग्वालियर। नईदुनिया प्रतिनिधि

फेसबुक पर महिला असिस्टेंट प्रोफेसर से दोस्ती कर एक युवक ने 20 हजार रुपए ऐंठ लिए। जब महिला प्रोफेसर ने रुपए वापस उनके अकाउंट में ट्रांसफर करने के लिए कहा तो युवक मुकर गया। घटना की शिकायत तीन दिन पहले महिला ने पुलिस के हेल्पलाइन नंबर पर की। पुलिस अधिकारियों ने अगले दिन सुबह असिस्टेंट प्रोफेसर को एसपी ऑफिस बुलाया। पर अगले दिन महिला नहीं आई। बाद में महिला का कहना था कि आरोपी ने उसे 10 दिन में कैश वापस करने के लिए कहा है। यदि वह नहीं आता है तो वह फिर शिकायत करेगी।

ग्वालियर के एक विश्वविद्यालय में बतौर गेस्ट फैकल्टी पदस्थ सीमा (परिवर्तित नाम) को कुछ दिन पहले फेसबुक पर एक रोहित कुमार नाम से फ्रेंड रिक्वेस्ट आई थी। जिसे असिस्टेंट प्रोफेसर ने एक्सेप्ट कर लिया। कुछ दिन तक पोस्ट पर लाइक्स व कमेंट्स हुए। उसके बाद दोनों के बीच अच्छी दोस्ती हो गई। दोनों काफी समय तक चैट करने लगे। इसके बाद रोहित ने परेशानी में होने के कारण महिला से रुपए मांगे। मदद करने के उद्देश्य से महिला ने पिछले महीने 20 हजार रुपए उसके अकाउंट में ट्रांसफर कर दिए। अब महिला के लगातार मांगने पर आरोपी रुपए लौटाने से मना करने लगा। उसने चैट करना भी बंद कर दिया। जिस पर आरोपी को पुलिस में जाने का मैसेज डालकर तीन दिन पहले महिला ने पुलिस हेल्पलाइन पर शिकायत कर दी। महिला को अगले दिन बातचीत व शिकायत को समझने के लिए बुलाया गया, लेकिन महिला नहीं आई। जब संबंधित नंबर पर पता किया गया तो महिला ने बताया कि उसकी युवक से बात हुई है और वह उसके रुपए लौटाने का वादा कर रहा है। उसने 10 दिन का समय मांगा है। यदि वह रुपए नहीं लौटाता है तो वह पुलिस के पास आ जाएगी।