Naidunia
    Monday, April 23, 2018
    PreviousNext

    छेड़छाड़ से परेशान युवती ने सुबह पुलिस से की शिकायत, शाम को लगाई फांसी

    Published: Thu, 15 Mar 2018 04:08 AM (IST) | Updated: Thu, 15 Mar 2018 04:08 AM (IST)
    By: Editorial Team

    छेड़छाड़ से परेशान युवती ने सुबह पुलिस से की शिकायत, शाम को लगाई फांसी

    27 फरवरी को हुई थी सगाई, 20 अप्रैल को होनी थी शादी

    शाहपुर थाना क्षेत्र के ग्राम कामठी में हुई घटना, ग्रामीणों में पुलिस के खिलाफ पनपा रोष

    फोटो------

    शाहपुर(बैतूल)। नवदुनिया न्यूज

    मनचले की छेड़छाड़ से तंग एक 20 वर्षीय युवती ने बुधवार की सुबह पुलिस से शिकायत कर मदद की गुहार लगाई लेकिन शाम तक कोई कार्रवाई न होने पर उसने फांसी के फंदे पर झूलकर मौत को गले लगा लिया। इस घटना के बाद ग्रामीणों में पुलिस की लापरवाही को लेकर आक्रोश पनप रहा है वहीं परिजनों ने भी पुलिस पर बेपरवाही का आरोप लगाया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार शाहपुर थाना क्षेत्र के ग्राम कामठी में रहने वाली जया पिता गुलाबदास चौरे (20) ने बुधवार की शाम अपने घर में ही फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतका ने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है जिसमें गांव के ही ब्रजेश पिता भूता असवारे पर छेड़छाड़ करने और ब्लैकमेल करने का आरोप लगाते हुए परेशान होकर आत्महत्या करने का उल्लेख किया है। मृतका के भाई जितेन्द्र चौरे ने बताया कि पिता का पिछले साल ही वाहन दुर्घटना में निधन हो चुका है। जया बीए फाइनल ईयर की पढ़ाई कर रही थी और उसका विवाह ग्राम सलैया में तय भी हो चुका है। 27 फरवरी को उसकी सगाई होने के बाद से गांव का ही ब्रजेश असवारे उसे परेशान कर रहा था। इतना ही नहीं जहां जया का जहां विवाह तय किया गया था वहां फोन कर उन्हें भी धमका रहा था। बुधवार की सुबह जया अपने भाई जितेन्द्र के साथ भौंरा स्थित पुलिस चौकी पहुंची और उसने ब्रजेश के द्वारा अपने साथ छेड़छाड़ करने, ब्लैकमेल कर धमकाने का आरोप लगाते हुए लिखित शिकायत की। पुलिस को शिकायत करने के बाद जया घर लौट आई और शाम करीब 4 .30 बजे एक सुसाइड नोट लिखकर कमरे में फांसी के फंदे पर झूल गई। घटना के समय मृतिका की मां खेत में गई हुई थी जबकि दोनों छोटे भाई गांव में ही कहीं गए हुए थे। शाम करीब 4.30 बजे जब मृतिका की मां घर लौटी तो उन्हें बेटी फांसी के फंदे पर झूलती मिली।

    सूचना देने पर भी नहीं पहुंची पुलिस

    मृतका के चाचा जसवंत चौरे ने बताया कि जया के द्वारा आत्महत्या करने की सूचना भौंरा पुलिस को दे दी गई लेकिन शाम 7.30 बजे तक कोई भी मौके पर नहीं पहुंचा। उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस के द्वारा जया की शिकायत को गंभीरता से लेते हुए यदि दिन में आरोपित युवक के खिलाफ कार्रवाई कर दी जाती तो शायद वह यह कदम नहीं उठाती। उन्होंने बताया कि जया ने अपने सुसाइड नोट में लिखा है कि ब्रजेश असवारे मुझे परेशान कर रहा था इसलिए मैं अपनी जान दे रही है।

    युवती ने भौंरा चौकी में शिकायत की थी

    एक युवती के द्वारा छेड़छाड़ करने का आवेदन भौंरा चौकी में दिए जाने की जानकारी मिली थी। शाम को उसके द्वारा फांसी लगाने की खबर मिलने पर मैं मौके के लिए रवाना हो गया हूं।

    निहित उपाध्याय, एसडीओपी शाहपुर

    और जानें :  # betul news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें