भिंड। 'सर, आप स्टेट (पुलिस) में रहकर सेवा कर रहे हैं। हम भी बार्डर (आर्मी) में रहकर देश की सेवा कर रहे हैं। हमारे पास हेलमेट है, लेकिन वह घर पर है। रिश्तेदार को बस स्टैंड जा रहा हूं। घर से निकलते समय हेलमेट नहीं लगा पाया हूं। गुरुवार को ट्रैफिक सूबेदार आदित्य मिश्रा से यह बात रामेन्द्र सिंह ने कही। दरअसल ट्रैफिक पुलिस ने गुरुवार को इंदिरा गांधी चौराहे पर वाहन चेकिंग लगाई थी। तभी इटावा इटावा रोड से एक बाइक पर बैठकर 3 लोग बिना हेलमेट लगाए निकले। साथ ही कार से काली फिल्म हटवाइ

हेलमेट तो है, लेकिन लगाया नहीं था

इंदिरा गांधी चौराहे पर एक बाइक पर 3 लोग बैठकर निकले। ट्रैफिक पुलिस ने बाइक सवार को रोक लिया। बाइक सवार से हेलमेट न पहनने पर चालान कटाने के बोला तो बाइक सवार ने कहा कि सर, हेलमेट तो हम साथ में लिए हैं, लेकिन उसे पहना नहीं थी। सूबेदार ने कहा कि हेलमेट पहन लोगे तो सुरक्षा तुम्हारी रहेगी।

आधा दर्जन से अधिक ई-रिक्शा पकड़े

सूबेदार ने बताया कि चेकिंग अभियान के दौरान आधा दर्जन से अधिक ई-रिक्शा पकड़े हैं। यह ई-रिक्शा प्रतिबंधित क्षेत्र में खड़े थे। इसके अलावा ऐसे ऑटो जो बिना परमिट व बिना दस्तावेज के सड़कों पर दौड़ रहे थे। कार्रवाई के दौरान वाहन छोड़ने के लिए कुछ नेताओं के फोन भी आए, लेकिन पुलिस ने उन्हें नहीं छोड़ा।

अभियान चलाकर ई-रिक्शा,ट्रैक्टर-ट्रॉली और बिना हेलमेट पहनकर बाइक चला रहे लोगों के खिलाफ कार्रवाई की है।

-आदित्य मिश्रा सूबेदार ट्रैफिक पुलिस

फोर्स में हो फिर भी नियम फॉलो नहीं कर रहे

ट्रैफिक सूबेदार ने कहा किफोर्स (आर्मी) में तो बाइक चलाते समय हेलमेट पहनना अनिवार्य है, फिर तुम ही लोग नियम फॉलो नहीं कर रहे हैं। सूबेदार ने कहा किजब हम देश की सेवा करने वाले ही इस तरह नियम तोड़ेंगे तो आमजन कहां से फॉलो करेंगे। इसके बाद आर्मी जवान 250 रुपए का चालान कटवा कर चले गए।