भिंड। नईदुनिया प्रतिनिधि

शहर में करीब 50 से अधिक डेयरी हैं। इस कारोबार से आम लोगों को न केवल परेशानी हो रही है, बल्कि लोग बीमार भी हो रहे हैं। जगह-जगह फैली गंदगी से लोगों को मुश्किल हो रही है। बावजूद इसके नगरपालिका और फूड सेफ्टी अधिकारी कार्रवाई नहीं कर रहे हैं। जबकि नियमानुसार प्रदूषण फैलाने वाली इकाईयां शहर के भीतर नहीं चल सकतीं।

यहां स्थिति खराब :

महावीर गंज : यहां पेच नंबर 2 गली में जाने वाले मोड़ पर दूध डेयरी संचालित हो रही है।

क्या है स्थिति : डेयरी संचालक ने दूध गर्म करने के लिए सड़क पर भट्टी लगा रखी है। जब दूध गर्म होता है तो आसपास के माहौल में धुआं भर जाता है। इसके अलावा डेयरी से केमिकल युक्त दूध नालियों में फैला दिया जाता है, जिसकी बदबू से लोगों को काफी परेशानी होती है।

धर्मपुरी : धर्मपुरी में मुक्तिधाम के पास पेठा बनाने की दो फैक्टरी हैं।

क्या है स्थिति : फैक्टरी में पेठा बनाया जाता है। पेठा बनाने के लिए कुम्हेड़ा को केमिकल से साफ किया जाता है। इसके बाद केमिकललयुक्त पानी को नालियों में बहा दिया जाता है।जिससे आसपास के दुकानदारों और रहने वालों को काफी परेशानी होती है।

बीच शहर में चल रहीं डेयरियां :

हाउसिंग कॉलोनी में 3, वाटर वर्क्स, सब्जी मंडी रोड, अटेर रोड, माधौगंज हाट, जैन मंदिर के पास, राज कॉलोनी, महावीर गंज, बीटीआई रोड, सीता नगर, गांधी नगर आदि स्थानों पर डेयरियां संचालित हो रही हैं।

क्या होती है परेशानी :

- डेयरी के आसपास गंदगी होती है और दुर्गंध फैलती रहती है।

- डेयरी पर उपयोग होने वाले केमिकल, तेजाब और अन्य पदार्थों के वातावरण में फैलने से लोगों को कई तरह की बीमारियां हो रही हैं।

- डेयरी पर दूध देने व उत्पाद लेने के लिए चार व छह पहिया वाहन आते हैं। इनसे लोगों को दिक्कत होती है।

यह है नियम :

- फूड सेफ्टी एक्ट के तहत हर डेयरी संचालक को सफाई रखनी होगी। यहां तक कि सामग्री बनाने वाले को भी सफाई कराना चाहिए।

- प्रदूषण बोर्ड के नार्मस पूरा करके लाइसेंस लेना होगा।

- पनीर, घी और दही आदि बनाने वाली डेयरियों को शहर के बाहर औद्योगिक क्षेत्र में होना चाहिए।

इनके जिम्मे है कार्रवाई :

- खाद्य एवं औषधि विभाग के खाद्य सुरक्षा अधिकारी।

- नगर पालिका के स्वास्थ्य निरीक्षक

यह हो सकती है कार्रवाई :

- नगरपालिका इन डेयरियों को नोटिस देकर शहर से बाहर कर सकती है।

- खाद्य सुरक्षा विभाग चेकिंग कर मानक पूरे नहीं करने पर डेयरी का लाइसेंस निरस्त कर जुर्माना लगा सकती है।

वर्जन :

हमारा काम सैंपलिंग का है। अगर उसमें मिलावटी काम हो रहा है तो हम कार्रवाई करते हैं। डेयरी को बाहर शिफ्ट करने का काम नपा का है।

रीना बंसल, खाद्य सुरक्षा अधिकारी

वर्जन :

बीच शहर में चलने वाली डेयरी से रहवासियों को परेशानी होती है। हम डेयरी व फैक्टरी संचालकों को नोटिस जारी करेंगे। साथ ही शहर से बाहर शिफ्ट करने की कार्रवाई करेंगे।

रविन्द्रपालसिंह भदौरिया, हेल्थ ऑफिसर नपा भिंड