गोरमी। नईदुनिया न्यूज

गोरमी कस्बे में मेहगांव रोड स्थित रामनाथ सिंह फार्मेसी कॉलेज में गुरुवार-शुक्रवार की रात चौकीदार की छत से गिरकर मौत हो गई। सुबह करीब 6 बजे चौकीदार का बहनोई छत पर पहुंचा तब उन्हें घटना की जानकारी मिली। बहनोई ने कॉलेज संचालक को जानाकरी दी। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है।

पुलिस के मुताबिक वीरेन्द्र (65) पुत्र जोधाराम वाल्मीकि गढ़ी थाना फूफ अपने बहनोई रामस्वरूप वाल्मीकि (60) पुत्र मातादीन वाल्मीकि निवासी दौनियापुरा के साथ मेहगांव रोड स्थित रामनाथ सिंह फार्मेसी कॉलेज में चौकीदारी करते थे। गुरुवार रात दोनों लोगों ने हॉस्टल में खाना खाया और कमरे में सोने चले गए। रात में वीरेन्द्र को गर्मी लगी तो वह सोने के लिए कॉलेज की छत पर चले गए। सुबह 6 बजे तक जब वीरेन्द्र सोकर नहीं नीचे नहीं आए तो बहनोई छत पर गए। जब वीरेन्द्र छत पर नहीं दिखाई दिए तो कॉलेज के नीचे झांककर देखा तो वह नीचे पड़े थे। बहनोई नीचे उतरकर वीरेन्द्र के पास गया और उसे आवाज दी। लेकिन तब तक वीरेन्द्र की मौत हो चुकी थी। रामस्वरूप ने कॉलेज के डायरेक्टर अवधेश ंिसंह कुशवाह को सूचना दी। इसके बाद गोरमी पुलिस को सूचना दी। गोरमी टीआई हीरासिंह चौहान का कहना है कि मर्ग कायम कर लिया है। पीएम रिपोर्ट आने के बाद आगे कार्रवाई करेंगे।