भिंड। नईदुनिया प्रतिनिधि

उप्र के हरदोई में रहने वाली 20 साल की युवती के मोबाइल पर अप्रैल 2018 में एक रांग नंबर पहुंचा। युवती को रांग नंबर करने वाले युवक से प्यार हो गया। 14 जून को युवती युवक के साथ घर से भाग गई। युवक ने युवती को भिंड, ग्वालियर और गुजरात के गांधी नगर में रखा। कुछ दिन पहले युवक ग्वालियर आया और यहां किराए का मकान लेकर युवती के साथ रहने लगा। रविवार सुबह युवती ग्वालियर से इटावा जा रही थी, लेकिन लहार रोड पर बस का पहिया पंचर हो गया। युवती को युवक के रिश्तेदारों ने देख लिया। रिश्तेदार युवती को पकड़ रहे थे, तभी पुलिस आ गई। कुछ देर बाद परिजन भी आ गए। परिजन युवती को अपने साथ ले गए।

यह है पूरा मामला

लहार रोड पर हरदोई निवासी युवती ने डायल 100 के पुलिसकर्मियों को बताया कि अप्रैल महीने में उसके मोबाइल पर एक युवक का रांग नंबर आया। युवक ने बातचीत की। इसके बाद युवक से मोबाइल पर बात होने लगी। युवक ने अपना नाम मुरैना निवासी उपेन्द्र सिंह तोमर बताया। 14 जून को युवती उपेन्द्र के साथ भाग आई। युवती का कहना है कि 17 जून को उसने उपेन्द्र से भिंड में कोर्ट मैरिज शादी कर ली। इस दौरान उपेन्द्र ने उसे भिंड निवासी मामा के यहां रखा।

ग्वालियर-गुजरात ले गया

युवती का कहना है कि शादी के बाद उपेन्द्र पहले उसे ग्वालियर ले गए और यहां 4 दिन रखा। इसके बाद वह गुजराज के गांधीनगर में करीब एक महीने तक रही। करीब 10 दिन पहले उपेन्द्र उसे लेकर फिर से ग्वालियर आया और यहां एक किराए के कमरे में रखा। इस दौरान उपेन्द्र उसकी मारपीट कर शारीरिक शोषण भी किया।

रिश्तेदारों पर लगाया अपहरण करने का आरोप

युवती का कहना है कि उपेन्द्र 2 दिन पहले किसी काम से भोपाल गया। युवती ने शनिवार दोपहर हरदोई में अपने घर पर मां से बात की। साथ ही कहा कि वह रविवार को इटावा आ जाएगी। युवती का कहना है कि रविवार सुबह वह ग्वालियर से भिंड आई। यहां बस स्टैंड पर इटावा जाने के लिए बस में बैठ गई। लेकिन रास्ते में बस का पहिया खराब हो गया। इस दौरान युवती को भिंड निवासी उपेन्द्र के रिश्तेदारों ने देख लिया। रिश्तेदार ने उपेन्द्र को फोन पर जानकार दी तो युवक ने युवती को पकड़ने के लिए कहा। लहार रोड से रिश्तेदार युवती को घर ले जा रहे थे, तभी राहगीरों ने बीच-बचाव कर डायल 100 को सूचना दी। पुलिस के आने के बाद रिश्तेदार भाग गए। पुलिस ने युवती के परिजन को सूचना दी। चूंकि परिजन इटावा में इंतजार कर रहे थे, इसलिए वह भी 1 घंटे में भिंड आ गए।

इनका कहना है

युवती अपनी मर्जी से युवक के साथ गई थी। चूंकि परिजन ने हरदोई में पहले ही मामला दर्ज करा दिया था। इसलिए पूरी कार्रवाई वहां की पुलिस करेगी।

केदारसिंह यादव, एसआई देहात थाना