अमायन। नईदुनिया न्यूज

अमायन कस्बे में शुक्रवार-शनिवार की रात अज्ञात युवक ने 1 कपड़े और 2 सब्जी की दुकान में आग लगा दी। हालांकि आग से अधिक नुकसान नहीं हुआ। सुबह व्यापारियों ने थाने में शिकायत की। अमायन थाना प्रभारी गोपालसिंह सिकरवार ने दोपहर को दुकान में आग लगाने वाले आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। दुकानों में आग लगाने वाले आरोपित का कहना है कि दुकानदारों ने काम कराकर उसे मजदूरी नहीं दी है।

जानकारी के अनुसार शुक्रवार-शनिवार रात अमायन कस्बे में हाट बाजार, खंडा रोड पर अज्ञात युवक ने सौरभ पुत्र राकेश जैन निवासी खंडा रोड अमायन की साड़ी की दुकान है, राजेन्द्र जाटव पुत्र चेतराम जाटव निवासी अमायन हाट बाजार और गोविंद पुत्र अमरसिंह चौहान निवासी अमायन की सब्जी की दुकान में आग लगा दी। इससे तीनों दुकान में करीब 12 हजार रुपए का नुकसान हो गया। सुबह व्यापारियों ने दुकान जलीं देखी तो पुलिस को सूचना दी।

सीसीटीवी में कैद हुआ आरोपित

अमायन थाना प्रभारी गोपाल सिंह सिकरवार ने बताया कि जांच के लिए वह बाजार गए तो सौरभ जैन की दुकान पर सीसीटीवी कैमरा लगा हुआ था। श्री सिकरवार ने कैमरा चेक किया तो एक युवक पेट्रोल डालकर दुकान में आग लगाकर भागता हुआ दिखाई दिया। दुकान मालिक ने बताया कि आग लगाने वाला युवक अमायन निवासी अशोक सिंह (35) पुत्र हरजनसिंह परिहार है। सौरभ के मुताबिक अशोक ने कुछ दिन पहले उसकी दुकान पर काम भी किया था। पुलिस ने आरोपित को घर से गिरफ्तार कर लिया।

1 दिन पहले भी लगाई थी दुकान में आग

पुलिस पूछताछ में आरोपित अशोक ने बताया कि उसने 1 दिन पहले यानी गुरुवार-शुक्रवार की रात मानसिंह कुशवाह पुत्र लल्लूसिंह कुशवाह की सब्जी की दुकान में भी आग लगाई थी। श्री सिकरवार के मुताबिक आरोपित ने पूछताछ में बताया कि करीब 4 दिन पहले उसने सौरभ जैन की दुकान पर काम किया था। उसे ट्रक से कुछ सामान उतारा था। वह प्रति सामान 5 रुपए नग मांग रहा था, जबकि सौरभ जैन के पित राकेश जैन ने 2 रुपए दिए। इसी तरह सब्जी विक्रेताओं ने काम कराने के बाद उसे मजदूरी नहीं दी। इसलिए उसने बदला लेने के लिए दुकानों में आग लगाई थी।

इनका कहना है

दुकानों में आग लगाने वाले युवक को गिरफ्तार कर लिया है। युवक से पूछताछ की जा रही है। युवक ने दुकान में लगाना कबूल कर लिया है।

गोपालसिंह सिकरवार, थाना प्रभारी अमायन