भोपाल। व्हॉट्सएप, फेसबुक, ट्वीटर जैसे सोशल मीडिया पर चैटिंग के कारण पूरे साल मेरी पढ़ाई नहीं हुई है, परीक्षा में पांच दिन शेष हैं। ऐसे में कुछ शॉर्टकट बताइए, जिससे मैं पास हो जाऊं, नहीं तो अभिभावक मेरा मोबाइल छीन लेंगे। गणित मुझे पसंद नहीं है तो क्या मैं एक विषय की परीक्षा नहीं दूंगा तो बेस्ट फाइव स्कीम के तहत पास हो जाऊंगा। कुछ इस तरह के प्रश्न माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) के काउंसिलिंग में विद्यार्थियों द्वारा पूछे जा रहे हैं। अभी तक प्रदेशभर से 8000 से ज्यादा कॉल आ चुके हैं।

काउंसलर ने कहा कि अभी आपके पास पढ़ाई का समय है। सोशल मीडिया से दूर रहना चाहिए। काउंसलर ने बेस्ट फाइव स्कीम के बारे में कहा कि 10वीं बोर्ड में सभी छह विषयों के पेपर देने होंगे, जिसमें से 5 विषयों में पास होना जरूरी है। इसके अलावा कुछ छात्रों ने पूछा कि कुछ भी याद नहीं हो रहा है। याद रखने के लिए कोई टेक्निक बताइए और कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न बताइए, जिससे अच्छे नंबर मिल जाएं।

काउंसलर ने बताया कि अब नया कुछ भी नहीं पढ़ें, बल्कि रिवीजन कीजिए। पिछली परीक्षाओं के प्रश्नपत्र से कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न याद कर लीजिए। अब तक माशिमं में 8 हजार कॉल आ चुके हैं। इसमें बेस्ट 5 आउट ऑफ 6 के प्रश्न पूछे जा रहे हैं। काउंसलर्स ने बताया कि हेल्पलाइन में इस बार थैंक्स कॉल भी आ रहे हैं।

15 दिन में कुछ सुझाव

काउंसलर छात्रों को 15 दिन के लिए कुछ महत्वपूर्ण सुझाव दे रहे हैं। इसमें डाइट, नींद और रेगुलर हैबिट की जानकारी दी जा रही है। काउंसलर बता रहे हैं कि सभी विषयों का बराबर रिवीजन करें, फार्मूला को याद कर लें, समय पर सोएं व उठने के साथ ही खाने-पीने का ध्यान रखें। तनाव बिल्कुल न लें, समय पर परीक्षा देने जाएं।

स्कीम की जानकारी दे रहे हैं

बेस्ट फाइव स्कीम के बारे में छात्र अब भी कन्फ्यूज्ड हैं। इन्हें काउंसिलिंग कर क्लीयर किया जा रहा है। इसके साथ ही थैंक्स कॉल भी आ रहे हैं - हेमंत शर्मा, डायरेक्टर, माशिमं