भोपाल। अगले शैक्षणिक सत्र (2018-19) में प्रदेश के निजी एवं सरकारी तकनीकी कॉलेजों में प्रवेश के लिए ऑफलाइन कैंपस काउंसलिंग में आधार नंबर अनिवार्य कर दिया गया है।

बुधवार को राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय में हुई तकनीकी शिक्षण संस्थाओं के प्राचार्य, अध्यक्ष व सचिवों की बैठक में यह निर्णय लिया गया है। बैठक में प्रमुख सचिव तकनीकी शिक्षा अशोक बर्णवाल ने कहा कि काउंसलिंग प्रक्रिया का व्यापक प्रचार-प्रसार राज्य एवं सीमा के अन्य राज्यों में भी किया जाए।

यहां निजी विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए अंतिम तिथि तय करने का फैसला हुआ। इस मौके पर विभिन्न् संस्थाओं के प्रतिनिधियों ने काउंसलिंग के संबंध में महत्वपूर्ण सुझाव दिए। बर्णवाल ने कहा कि सुझावों पर नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी। संचालक तकनीकी शिक्षा डॉ. वीरेन्द्र कुमार ने काउंसलिंग प्रक्रिया की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि विद्यार्थी एनड्रायड मोबाइल एप के माध्यम से भी काउंसलिंग में शामिल हो सकते हैं। दस्तावेजों का ऑटो ई-वेरिफिफेशन होता है।

लगभग 70 हेल्प सेंटर स्थापित हैं। विद्यार्थियों को एसएमएस और ई-मेल से सूचना दी जाएगी। बैठक में राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. सुनील गुप्ता, सचिव तकनीकी शिक्षा एवं कौशल विकास तथा रोजगार सुखवीर सिंह उपस्थित थे।