भोपाल। भोपाल लोकसभा क्षेत्र में जीत तो भाजपा की हुई है, लेकिन इसमें हार उन लोगों की हुई है, जो हाफिज सईद जैसे आतंकियों को साहब कहते हैं, जो लोग ओसामा बिन लादेन जैसे विश्वस्तरीय आतंकवादी को जी कहकर सम्मान देते हैं। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष व विधायक रामेश्वर शर्मा ने कांग्रेस नेता और भोपाल से पराजित उम्मीदवार दिग्विजय सिंह द्वारा साध्वी प्रज्ञा की जीत को गोडसे की विचारधारा वालों की जीत बताने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कही। शर्मा ने कहा कि ऐसे लोग जो हमेशा हिंसा और अशांति को हवा देने का काम करते रहे हैं, खुद को शांतिदूत बता रहे हैं, जो हास्यास्पद है। भोपाल का चुनाव वास्तव में ऐसे दलों और नेताओं की हार है, जो राष्ट्र के विरोधियों, देश के टुकड़े-टुकड़े करने के नारे लगाने वालों, आतंकवादियों और हिंसा फैलाने वालों को सम्मान देते रहे हैं।