हर्ष पचौरी

भोपाल। विश्व हिंदू परिषद के संरक्षक अशोक सिंघल ने ऐलान किया है कि नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री बनाने के लिए विहिप, संत-महात्माओं की धर्म संसद और बजरंग दल द्वारा जनजागरण अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने आरोप लगाया कि लव जिहाद मुहिम और ईसाई मिशनरीज के धर्मांतरण माध्यम से हिंदुओं की आबादी को कम करने का षड़यंत्र किया जा रहा है।

अशोक सिंघल ने एक बार फिर दोहराया कि देश में हिंदू संगठनों, संतों को एक योजनाबद्ध ढंग से बदनाम किया जा रहा है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि वे अमेरिका के इशारे पर चल रही हैं। ईसाई धर्म को देश में बढ़ाने के लिए काम कर रही हैं और हिंदू धर्म से जुड़े लोगों-संगठनों को बदनाम किया जा रहा है।

देश में समान नागरिकता कानून लागू किया जाना चाहिए जिससे सभी धमोर् के लोगों को समान अधिकार मिलें। गौ हत्या और गौ वंश रक्षा के लिए कानून तो बने हैं लेकिन उन पर अमल नहीं हो रहा है। उन्होंने कहा कि अहमदाबाद के हिंदू मेले और प्रयाग के माघ मेले जैसे आयोजनों में सभी संतों और हिंदू संगठनों ने एकराय होकर फैसला किया है कि नरेंद्र मोदी को पीएम बनाने के लिए खुलकर सामने आएं और जनजागरण चलाएं।

केजरीवाल को फोर्ड फाउंडेशन का पैसा

सिंघल ने आरोप लगाया कि अरविंद केजरीवाल को फोर्ड फाउंडेशन रूपया दे रहा है। फोर्ड फाउंडेशन वही संस्था है जो नक्सलियों को आर्थिक मदद करती है। उन्हें मैग्सेस अवॉर्ड भी इसीलिए दिया गया है। उन्हें बाहरी सहायता इसीलिए मिल रही है कि वे देश में सत्ता पलट करें और पड़ोसी देश अस्थिरता का लाभ उठाकर देश पर कब्जा कर लें।