भोपाल( ब्यूरो)। हमीदिया रोड पर सोमवार शाम करीब साढ़े सात बजे एक महिला पर उसके पति ने एसिड फेंक दिया। वह बुरी तरह से झुलस गई। उसे नाजुक हालत में पुलिस ऑटो से हमीदिया अस्पताल के बर्न यूनिट लेकर पहुंची। महिला की हालत नाजुक बनी हुई है। इधर, घटना के बाद लोगों ने महिला के पति की जमकर पिटाई कर दी। उसकी हालत भी बिगड़ गई और हमीदिया अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

हनुमानगंज पुलिस के अनुसार द्वारका नगर में रहने वाली 38 वर्षीय महिला पति से अलग रहती है। दोनों के बीच विवाद चल रहा है। वह हमीदिया रोड स्थित एक बायरिंग फैक्टरी में नौकरी करती है। सोमवार शाम महिला छुट्टी होने के बाद बस स्टैंड की तरफ जा रही थी। वह मनोहर डेयरी के आगे गुरुद्वारा गेट के पास पहुंची तभी पति पीछे से स्टील की डोलजी में एसिड लेकर आया और महिला पर उड़ेल दिया। एसिड करीब आधा लीटर बताया जा रहा है। भरे बाजार हुई इस घटना में महिला बुरी तरह से झुलस गई। लोगों ने महिला के पति को पकड़कर जमकर पीटा। पिटाई से उसकी भी हालत बिगड़ गई। पुलिस ने आरोपित पति के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है।

जिस महिला पर उसके पति ने एसिड फेंका है, उसकी एक बैंक कर्मी से दोस्ती थी। इसे पति पसंद नहीं करता था और इसी बात को लेकर पिछले डे़ढ़ माह से राजे उनके बीच विवाद हो रहा था। इसी के चलते महिला आठ दिन पहले पति का घर छोड़कर किराये के मकान में शिफ्ट हो गई थी। इधर, एसिड के हमले से महिला करीब 47 फीसदी झुलसी है। इसमें उसके शरीर के पीछे का हिस्सा, सिर और चेहरे को बुरी तरह से नुकसान पहुंचा है।

पति स्टील के डिब्बे में लाया था एसिड

मैं बस को खड़ी करके अपने घर पातरापुल की तरफ जा रहा था। रास्ते में मनोहर डेयरी के पास पहुंचा ही था एक युवक भागता हुआ आया और मेरे आगे जा रही महिला के ऊपर स्टील डिब्बा (डोलजी) खोलकर एसिड उड़ेल दिया। इससे महिला के कपड़े बुरी तरह से जल गए और वह चीखने और चिल्लाने लगी है। उसका शरीर बुरी तरह से झुलस गया था। यह देखकर लोगों ने उस युवक को पकड़ लिया और जमकर धुनाई लगाई। उसके बाद कई महिलाओं ने अपने दुपट्टों और लोगों ने अपने गमछों से महिला के जले शरीर को ढंका। इस बीच एक युवक को स्कूटर से हनुमानगंज थाने भेजा और पुलिस को सूचना दी। पुलिस तत्काल पहुंची और महिला को ऑटो से हमीदिया अस्पताल भिजवाया। महिला का पति काफी देर से खड़ा उसका इंतजार कर रहा था।

(जैसा कि घटना का चश्मदीद मोहम्मद आबिद ने नवदुनिया को बताया)

16 साल हो चुके हैं शादी को

एसिड अटैक का शिकार हुई महिला के पिता ने बताया उनकी बेटी की शादी को 16 साल हो गए हैं। उसने लव मैरिज की थी। महिला के तीन बच्चे हैं। बड़ी बेटी 15 साल की है और इस साल 10 वीं क्लास में पहुंची है। इसके बाद उसके 10 साल और छह साल के दो बेटे हैं। उसका पति से कुछ दिनों से विवाद चल रहा था। पति को महिला के एक बैंक कर्मी से दोस्ती पसंद नहीं थी। इसी बात को लेकर उनके बीच झगड़े हो रहे थे।

पति का घर छोड़कर द्वारका नगर में रहने लगी थी महिला

महिला ने आठ दिन पहले पति का कोहेफिजा का मकान छोड़ दिया था। वह बजरिया थाना क्षेत्र के द्वारका नगर में रहने चली गई थी। वहां उसका दोस्ता रोज आता-जाता था। इसकी भनक उसके पति को भी लग गई थी। महिला रविवार को अपने बच्चों को अपने पिता के घर छोड़ कर आई थी।

पति भी अस्पताल में भर्ती

टीआई शिवपाल सिंह का कहना है कि पति के कपड़े भी एसिड फेंकते समय जल गए हैं। लोगों की मारपीट में उसको भी काफी चोटें आई हैं। उसको भी हमीदिया अस्पताल में भर्ती कराया है।