भोपाल, नवदुनिया स्टेट ब्यूरो। विकास यात्रा की तरह जनआशीर्वाद यात्रा के दौरान भी कांग्रेस प्रायोजित विरोध से बचने के लिए भाजपा ने रणनीति बनाई है। इसलिए यात्रा का स्वागत करने के लिए सिर्फ उन लोगों को ही लाया जाएगा, जिन्होंने सरकार की किसी न किसी योजना का लाभ लिया है। यात्रा के स्वागत में आए लोगों पर भी पार्टी नजर रखेगी कि वे किसी गलत मंशा के साथ तो नहीं आए हैं।

यात्रा में आने वाले हितग्राहियों में उन युवा मतदाताओं को शामिल किया गया है, जिन्होंने सरकार से लेपटॉप प्राप्त किया है। कन्यादान योजना से लेकर किसान कल्याण और संबल योजना के हितग्राहियों को यात्रा के स्वागत के लिए लाने के निर्देश सरकार ने दिए हैं।

यात्रा की शुरूआत 14 जुलाई को उज्जैन से हो रही है। इसकी तैयारियों को लेकर भाजपा और सरकार जुटे हुए हैं। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह इस यात्रा को हरी झंडी दिखाएंगे। पहले चरण में सीएम 14 से 16 जुलाई तक 300 किमी की यात्रा करेंगे। दूसरा चरण 18 जुलाई को मैहर में मां शारदा के दर्शन के बाद शुरू होगा।