भोपाल। राजधानी की सात विधानसभाओं में मतदाताओं से रूबरू होने के लिए भोपाल लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह आगामी 5 मई से पदयात्रा शुरू करेंगे। पदयात्रा हुजूर विधासनभा के तहत आने वाले बैरागढ़ से शुरू होगी। इस यात्रा में भाजपा के कब्जे की तीन विधानसभाओं पर फोकस किया जाएगा। इसमें गोविंदपुरा, नरेला और हुजूर विधानसभा शामिल है।

दिग्विजय सिंह सुबह 9 बजे से दोपहर 12 तक और शाम 5 बजे से रात 8 बजे तक पदयात्रा करेंगे। पदयात्रा का रोडमैप भी उन बूथों के आधार पर तैयार किया जा रहा है जहां कांग्रेस की स्थिति कमजोर रही है। बीती बैठकों में दिग्विजय सिंह ने बूथ प्रबंधन पर जोर किया था। लिहाजा कांग्रेस ने बूथ पर एजेटों की जिम्मेदारी भी पहले ही तय कर दी है। इन बूथों में दिग्विजय सिंह घर-घर पहुंचकर लोगों से मुलाकात करेंगे। पदयात्रा की जिम्मेदारी मंत्री पीसी शर्मा और जिला कांग्रेस को सौपी गई है।

काले झंडे दिखाने वाला था भाजपा का कार्यकर्ता

मंगलवार को भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के नामाकंन के दौरान काले झंडे दिखाने के मामले पर सियासी बयानबाजी शुरू हो गई है। कांग्रेस प्रत्याशी दिग्वजिय सिंह के मीडिया प्रभारी व वरिष्ठ कांग्रेस नेता मानक अग्रवाल ने प्रेस वार्ता के दौरान कहा कि विरोध करने वाला व्यक्ति भाजपा का कार्यकर्ता था। उनका आरोप है कि वर्तमान सांसद आलोक संजर को भाजपा से टिकट नहीं मिलने के कारण युवक ने साध्वी को काले झंडे दिखाए थे। उन्होंने कहा कि शहीद हेमंत करकरे मामले पर साध्वी के बयानों पर भी भाजपा ने स्पष्टीकरण नहीं दिया है। जो भाजपा और साध्वी की शहीद के प्रति मानसिकता को दर्शाता है।