भोपाल (स्टेट ब्यूरो)। किसान और मजदूरों को साधने के बाद चुनावी साल में सरकार अब युवाओं को आकर्षित करने के लिए कार्यक्रम करेगी। चार अगस्त को एक बार में एक लाख से ज्यादा युवाओं को स्वरोजगार की स्वीकृतियां दी जाएंगी। साथ ही विभिन्न कंपनियां युवाओं को ऑफर लेटर भी देंगी। हर जिला मुख्यालय में सम्मेलन होंगे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी इसमें हिस्सा लेंगे।

तकनीकी शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग के प्रमुख सचिव अशोक बर्णवाल ने बताया कि हर जिले में रोजगार मेले हो रहे हैं। इसमें विभिन्न कंपनियां युवाओं को उनकी योग्यता के हिसाब से ऑफर लेटर भी दे रही हैं। चार अगस्त को बड़े पैमाने पर कार्यक्रम करने का फैसला किया है। हर जिला मुख्यालय में कार्यक्रम होंगे। मुख्यमंत्री युवा उद्यमी, कृषक उद्यमी, स्वरोजगार से जुड़ी अन्य योजनाओं के तहत एक लाख से ज्यादा स्वीकृति दी जाएंगी। बताया जा रहा है कि सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग और तकनीकी शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग ने कार्यक्रम की तैयारियां तेज कर दी हैं।

युवाओं पर रहेगा फोकस

सूत्रों का कहना है कि सरकार का फोकस अब युवाओं पर रहेगा। दरअसल, चुनाव में युवा मतदाता बड़ी भूमिका निभाएंगे। इनकी संख्या 25 से 30 प्रतिशत के आसपास है। वहीं, बेरोजगारी को लेकर युवाओं में आक्रोश है। कांग्रेस भी इसे मुद्दा बनाने के संकेत मंदसौर में पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी की सभा में दे चुकी है। उधर, विभिन्न स्वरोजगार योजनाओं के प्रकरण बड़ी संख्या में विभागों से लेकर बैंक स्तर पर लंबित हैं।