भोपाल। निशातपुरा इलाके में 9वीं की छात्रा ने रिश्तेदार की अश्लील हरकत के बाद आग लगाकर जान दे दी। रिश्तेदार ने छात्रा के आपत्तिजनक फोटो भी खींच लिए थे। छात्रा ने पिता को रो-रोकर रिश्तेदार की करतूत बताई थी। घटना के बाद से वह तनाव में थी। पिता ने भी उसे काफी समझाया था, लेकिन रविवार दोपहर उसके भाई और पिता ड्यूटी पर चले गए। इस दौरान छात्रा ने मिट्टी का तेल अपने ऊपर डालकर आग लगाकर जान दे दी।

घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को पीएम के लिए हमीदिया भेजा। पीएम के बाद परिजनों को शव सौंप दिया गया। पुलिस अभी उस रिश्तेदार की पहचान करने में जुटी है जिसने छात्रा से छेड़छाड़ की।

पुलिस के अनुसार निशातपुरा इलाके में रहने वाली 17 वर्षीय 9वीं की छात्रा रविवार दोपहर मां के साथ छत पर गेहूं साफ कर रही थी। पिता और भाई ड्यूटी पर गए थे। इसी दौरान छात्रा छत से नीचे आई और मिट्टी का तेल डालकर खुद को आग लगा ली। उसकी चीख सुनकर मां दौड़कर नीचे आई।

बेटी को आग की लपटों में घिरे देखकर उसने पड़ोस से लोगों को बुलाया और पानी डालकर आग बुझाने की कोशिश की। लेकिन तब तक बच्ची आग में बुरी तरह झुलस चुकी थी। लोगों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने पंचनामा बनाकर शव को हमीदिया में पीएम के लिए भिजवाया। सोमवार को पीएम होने के बाद शव को परिजनों के हवाले कर दिया।

पीएम रिपोर्ट से होगा खुलासा: पुलिस ने कई बिंदुओं पर हमीदिया अस्पताल में छात्रा का पीएम करने वाले डाक्टरों से रिपोर्ट मांगी है। इसमें मुख्य- बच्ची की मौत का कारण क्या है? उसके साथ कुछ गलत तो नहीं किया गया। इसकी रिपोर्ट आने के बाद पूरा मामला स्पष्ट हो जाएगा।

बेटी ने रो-रोकर बोला था, रिश्तेदार जबरन साथ ले गया और फोटो खींचे

शनिवार रात जब मैं घर लौटा तो मेरी बेटी गुमसुम बैठी थी। अकसर वह ऐसे चुपचाप नहीं रहती थी। मुझे कुछ शंका हुई तो मैंने पूछा कि बेटी क्या हुआ? इस पर वह रोने लगी। उसने बताया कि परिवार का ही रिश्तेदार शनिवार को उसके स्कूल पहुंचा था और उसे अपने साथ जबरन ले गया। उसने कुछ गलत किया है और मेरी बच्ची के फोटो भी खींचे थे। वह रोते ही जा रही थी। बेटी को काफी समझाया, लेकिन वह चुप होने का नाम नहीं ले रही थी। मैंने कहा बेटा सुबह देखेंगे। रविवार सुबह बेटों के साथ काम पर निकल गए। घर में बेटी व उसकी मां थीं। दोपहर में उसने यह दर्दनाक कदम उठा लिया।

(जैसा की पीड़ित के पिता ने नवदुनिया को बताया)

इनका कहना है

9वीं की छात्रा ने आग लगाकर जाने देने का मामला सामने आया है। शार्ट पीएम में आग लगाने से मौत का कारण आ रहा है। बच्ची के पिता ने बताया कि पहले हम लोग उसी लड़के से शादी करना चाह रहे थे, जो उसे ले गया था। लेकिन उसके परिवार वालों ने इनकार कर दिया था। बाकी चीजें जांच के बाद सामने आएंगी।

लोकेश सिन्हा, सीएसपी निशातपुरा