भोपाल (ब्यूरो)। दक्षिण-पश्चिम मानसून के आगमन की उल्टी गिनती शुरू हो गई है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक मानसून के आगे बढ़ने के लिए परस्थितियां अनुकूल बनी हुई हैं। यदि सब कुछ ठीक रहा तो एक हफ्ते में प्रदेश में मानसून के बालाघाट के रास्ते दस्तक देने की संभावना है। प्री मानसून की बरसात का दौर शुरू होने से प्रदेश में भीषण गर्मी से राहत मिल गई है।

मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक मंगलवार को प्रदेश में दिन का सर्वाधिक तापमान 41 डिग्रीसे. खरगोन में दर्ज किया गया। उधर, मंगलवार को दिन में खजुराहो 12.7, उमरिया में 11.4, जबलपुर में 9.0, इंदौर में 7.2, सतना में 6.6, गुना में 3.4, नौगांव में 2.0 मिमी. बरसात हुई। सतना में गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी हुई।

'वायु" के असर से बरसात का सिलसिला फिर शुरू

वरिष्ठ मौसम विज्ञानी एसके डे ने बताया कि पिछले दिनों अरब सागर में उठा चक्रवाती तूफान गुजरात के तट पर पहुंचने के बाद एक बार फिर वापस अरब सागर में पहुंच गया था। वर्तमान में कम दबाव के क्षेत्र में तब्दील होकर कच्छ व उससे लगे दक्षिण-पश्चिम राजस्थान और पाकिस्तान पर सक्रिय है। साथ ही इसी क्षेत्र पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात भी बना है। इससे प्रदेश में बड़े पैमाने पर आद्रता मिलने लगी है। इससे ग्वालियल, चंबल, उज्जैन संभाग के अलावा रतलाम, नीमच में 24 घंटे के दौरान अच्छी बरसात होने की संभावना है। इसके अतिरिक्त प्रदेश के अन्य स्थानों पर भी मानसून पूर्व की बरसात में तेजी आएगी। डे के मुताबिक दक्षिण-पश्चिम मानसून धीरे-धीरे आगे बढ़ रहा है। मानसून के इस सप्ताह में 24-25 जून को बालाघाट में दस्तक देने की संभावना बन रही है।

मंगलवार को चार महानगरों का तापमान

शहर अधिकतम न्यूनतम

भोपाल 37.7 26.6

इंदौर 36.5 22.7

जबलपुर 39.4 26.0

ग्वालियर 35.2 26.2

(नोट - तापमान डिग्री सेल्सियस में)