भोपाल। रातीबड़ सागर कॉलेज के पास रसूलिया गोंसाई गांव में 50 लाख रुपए की राशि से 65 फीट की रामभक्त हनुमानजी की प्रतिमा बनकर तैयार हो चुकी है। पांच साल बाद यहां चारधाम के भी दर्शन होंगे। चार एकड़ में यह परिसर विकसित हो रहा है। प्रतिमा का विधि-विधान से भव्य अनावरण हनुमान जयंती पर 19 अप्रैल को किया जाएगा।

श्रीखेड़ापति हनुमान मंदिर न्यूमार्केट के ट्रस्टी आरसी जैन ने बताया कि वास्तुशास्त्र के अनुसार परिसर का द्वार भी पूर्व मुखी है और मूर्ति भी इसी दिशा में बनाई गई है। यह प्रतिमा सीमेंट-कांक्रीट और 25 एमएम लोहे की सरिया से बनाई है। इसको मूर्तिकार दुलारे प्रसाद द्वारा तैयार किया गया है। मंदिर परिसर में मई माह से चार धाम बद्रीनाथ, केदारनाथ, द्वारकाजी और जगन्नाथपुरी मंदिर का चरणबद्ध तरीके से काम शुरू हो जाएगा। यह योजना पांच साल की है। योजना पर 20 करोड़ रुपए खर्च होंगे। इस राशि को जनसहयोग से जुटाया जाएगा। इसके अलावा यहां पांच साल की योजनांतर्गत गौशाला, वृद्धाश्रम, छात्रावास, चिकित्सालय और संत निवास भी प्रस्तावित है। उन्होंने बताया कि चारधाम अधिक दूरी पर हैं, इसलिए लोग दर्शन के लिए नहीं पहुंच पाते, इसी को देखते हुए परिसर को चारधाम की तर्ज पर बनाया जा रहा है। पांच साल बाद चारों धामों के दर्शन भोपाल में ही किए जा सकेंगे।