भोपाल। चार्टर्ड और अन्य लग्जरी बसों से इंदौर जाने वाले यात्रियों को अब इंटर स्टेट बस टर्मिनस(आईएसबीटी) की बजाय हलालपुर बस स्टैंड जाना पड़ेगा। जिला प्रशासन के निर्देश पर क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय ने इंदौर जाने वाली चार्टर्ड बसों का संचालन आईएसबीटी से रोक दिया है। यह बसें अब हलालपुरा बस स्टैंड से ही चलेंगी। यात्रियों को बिना जानकारी दिए आरटीओ ने चार्टर्ड बसों पर रोक लगा दी, इससे शनिवार को कई यात्री परेशान होते रहे। वहीं भोपाल सिटी लिंक लिमिटेड ने आरटीओ की इस कार्रवाई को एक तरफा बताया है। गौरतलब है कि रोजाना करीब तीन हजार लोग चार्टर्ड बस से भोपाल-इंदौर आना जाना करते हैं। लग्जरी बसों के अलावा अन्य बसें अभी हलालपुर से ही इंदौर जा रही थीं।

गौरतलब है कि शहर के बीच से गुजरने वाली बसों के कारण ट्रैफिक व्यवस्था चरमरा रही थी। इस संबंध में आ रही शिकायतों के बाद जिला प्रशासन ने आरटीओ बसों की व्यवस्था का संचालन ठीक करने के निर्देश दिए थे। पिछले दिनों आरटीओ ने कई चार्टर्ड बसों पर चालानी कार्रवाई भी की थी।

सिर्फ दस बसें खड़ी करने की जगह, बाकी रहेगी सड़क पर

आरटीओ ने आईएसबीटी से चार्टर्ड बस के संचालन पर रोक तो लगा दी, लेकिन यात्रियों को असुविधा से बचाने के लिए हलालपुर बस स्टैंड पर कोई व्यवस्था नहीं है। यहां एक साथ सिर्फ दस बसें खड़ी हो सकती हैं, भोपाल से इंदौर रोज करीब 40 चार्टर्ड बसें आती-जाती हैं। ऐसे में यह बसें सड़क पर ही खड़ी होंगी। इससे गांधी नगर चौराहे और बैरागढ़ के बीच का ट्रैफिक बिगड़ेगा।

चार दिशाओं के लिए चार बस स्टैंड

-आईएसबीटी बस स्टैंड से

होशंगाबाद, इटारसी, बैतूल, मुलताई की ओर बस जाएगी।

- सागर, बीना, विदिशा, अशोकनगर, गुना, शिवपुरी,ग्वालियर जाने और वहां से आने वाली बस नादरा बस स्टैंड पर रुकेंगी।

- हलालपुर से

इंदौर, उज्जैन, देवास, सीहोर, झाबुला, रतलाम की ओर बस का आवागमन होगा।

- पुलती घर बस स्टैंड से

सिरोंज व बैरसिया की ओर बसें जाएंगी।

मिसरोद से 20 और कोलार रोड से 14 किमी है हलालपुर

कोलार सर्वधर्म कॉलोनी सेः 14.3 किमी

मिसरोद उप डाकघर सेः 20.2 किमी

कटारा हिल्स बागमुगालिया सेः 20.3 किमी

संगम कॉलोनी भेल सेः 17.6 किमी

आईएसबीटी बस स्टैंड सेः 12.9 किमी

अयोध्या नगर सेः 19.6 किमी

हलालपुर बस स्टैंड पहुंचने के ये साधन

दिन में: शहर के लगभग सभी स्थानों से हलालपुर पहुंचने के लिए सिटी बसें की सुविधा है।

रात में: रात 8 बजे के बाद हलालपुर पहुंचना काफी कठिन होगा। क्योंकि सिटी बसें बंद हो जाती हैं। हलालपुर से बस पकड़ने के लिए यात्रियों को निजी साधन व टैक्सियों की मदद लेनी होगी। इसके साथ ही चार्टर्ड बस और अन्य निजी बस सर्विस दिनभर कैब की सुविधा भी उपलब्ध कराती हैं।

इनका कहना है

शुक्रवार को आईएसबीटी से होकर इंदौर मार्ग की चलने वाली बसे मिली थी। जिनके खिलाफ कार्रवाई की गई है। शनिवार से सभी बसे तय बस स्टैंड से ऑपरेट हुई है। फिर भी कोई नियमों उल्लंघन कर रहा तो उनके परमिट निरस्त किए जाएंगे।

संजय तिवारी, आरटीओ, भोपाल

यह निर्णय एक तरफा माना जाएगा। बीसीएलएल से इस संबंध में चर्चा नहीं की गई। लोगों को भी खासी दिक्कतों का सामना करना होगा। पहले भी संचालन नियमों के आधार पर ही हुआ है। हलालपुरा में भी व्यवस्थाओं का खासा अभाव है।

-केवल मिश्रा, डायरेक्टर, बीसीएलएल