Naidunia
    Monday, April 23, 2018
    PreviousNext

    महिलाओं को नहीं हेल्पलाइन नंबर की जानकारी

    Published: Thu, 15 Mar 2018 04:11 AM (IST) | Updated: Thu, 15 Mar 2018 04:11 AM (IST)
    By: Editorial Team

    फोटो नंबर 13 और 14

    छिंदवाड़ा। महिलाओं की आत्मरक्षा और उनके अधिकारों के प्रति जागरुक करने के लिए संगोष्ठी और आयोजन होते हैं, लेकिन इसका असर महिलाओं पर क्या पड़ता है, ये चिंतनीय है। क्योंकि गर्ल्स कॉलेज में महिलाओं के लिए सतर्कता कार्यक्रम का आयोजन बुधवार को किया गया, लेकिन इस कार्यक्रम में छात्राओं को हेल्पलाइन नंबर 1090 की ही जानकारी नहीं थी, जिसके तहत एक कॉल करने पर मुसीबत के समय में छात्रा अपनी रक्षा कर सकती हैं, लेकिन अधिकतर छात्राओं को इस नंबर के बारे में जानकारी ही नहीं है। यही नहीं स्टॉफ के सदस्यों को भी इसकी जानकारी नहीं थी, जो ताज्जुब की बात है। गर्ल्स कॉलेज में निर्भया टीम ने सेमिनार में महिलाओं को उनके अधिकारों के प्रति जागरुक होने को कहा, इस दौरान उनसे 1090 हेल्पलाइन नंबर के बारे में पूछा गया, लेकिन छात्राएं इस बारे में नहीं बता पाई। कार्यक्रम में कॉलेज प्रिंसिपल पीआर चंदेलकर समेत तमाम स्टॉफ मौजूद रहा।

    भारतीय बौद्ध महासभा जिला कार्यकारिणी का 25 मार्च को होगा पुर्नगठन

    छिंदवाड़ा। भारतीय बौद्ध महासभा प्रदेश सचिव रमेश लोखण्डे ने बताया कि जिला भारतीय बौद्ध महासभा का कार्यकाल पूर्ण हो चुका है। जिला कार्यकारिणी पुर्नगठन की बैठक का आयोजन 25 मार्च दिन रविवार को सौंसर के बौद्ध बिहार वार्ड नंबर 11 में सुबह 11 बजे से किया जाना सुनिश्चित किया गया है। बैठक में मुख्य रूप से भारतीय बौद्ध महासभा प्रदेश उपाध्यक्ष प्रोफेसर बीएल बागड़ी, महासचिव धम्मरतन सोमकुंवर, जिला अध्यक्ष चंद्र्रभान बागड़े प्र्रमुख रूप से उपस्थित रहेंगे । बैठक आयोजन के पूर्व 25 मार्च तक जिले के उपासक, उपासिकाओं की सदस्यता दिलायी जाएगी । सदस्यता अभियान चलाकर लोकतांत्रिक निर्वाचन पद्धति से भारतीय बौद्ध महासभा जिला कार्यकारिणी का पुर्नगठन किया जाएगा । सदस्यता प्राप्त किए जाने हेतु जिले के तमाम उपासक, उपासिका चन्द्र्रभान बागड़े जिला अध्यक्ष, प्रदेश सचिव एड. रमेश लोखण्डे, प्रदेश उपाध्यक्ष प्रो. बीएल बागड़ी, प्रदेश महासचिव धम्म रतन सोमकुंवर से संपर्क कर 10 रुपए की वार्षिक सदस्यता एवं एक हजार रुपये की आजीवन सदस्यता प्राप्त कर जिला कार्यकारिणी एवं तहसील कार्यकारिणी के पदाधिकारी बनने की योग्यता रखते हैं। जो व्यक्ति भारतीय बौद्ध महासभा सदस्य नहीं होगा उसे पदाधिकारी बनने की पात्रता नहीं होगी।

    और जानें :  # brn˜tytü fUtu lné nu
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें