बुरहानपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

नगर निगम में अब भी परिषद का सम्मेलन डोम के नीचे टेंट में आयोजित कि या जाता है। इसका कारण नगर निगम के पास बैठक के लिए सभागार का न होना है। करीब तीन दशक पुरानी नगर निगम में कई जनप्रतिनिधि चुनकर आए लेकि न शहर विकास की चर्चा के लिए जरूरी यह सुविधा मुहैया नहीं करा पाए। करीब तीन साल पहले मीटिंग हॉल के लिए राशि स्वीकृत भी हुई लेकि न निर्माण शुरू नहीं हो पाया। नेता प्रतिपक्ष अकीलउद्दीन औलिया एवं उपनेता प्रतिपक्ष अमर यादव ने बताया कि यहां पर सर्वसुविधायुक्त सभागार होना चाहिए जिसमें निगम के साधारण सम्मेलन व बैठकें हो सकें । सूत्रों के अनुसार नगर निगम परिषद की नियमित बैठकें न बुलाए जाने के पीछे भी मीटिंग हॉल की कमी एक प्रमुख कारण है क्योंकि इसके लिए हर बार निगम परिसर के बगीचे में टेंट लगाना पड़ता है। उप नेता प्रतिपक्ष अमर यादव के मुताबिक निगम के अधिकारी तीन साल से परिषद के मीटिंग हॉल को लेकर झूठ बोल रहे हैं और पार्षदों को बरगला रहे हैं। इस बार 23 जनवरी को होने वाली बैठक में विपक्ष खामोश नहीं बैठेगा।

भूमिपूजन कर भूले अफसर

नेता प्रतिपक्ष अकीलउद्दीन औलिया ने बताया कि नगर निगम के बागीचे में सर्वसुविधायुक्त मीटिंग हॉल का निर्माण प्रस्तावित था। जिसके लिए 1.10 करोड़ रुपए भी स्वीकृत हो गए थे और टेंडर भी जारी हो गया था लेकि न प्रदेश में सत्ताधारी भाजपा के दोनों नेता भैया और दीदी गुट में इसका श्रेय लेने की होड़ शुरू हो गई। साथ ही इसका टेंडर भी भाजपा समर्थक एक ठेके दार को दिए जाने को लेकर विरोध था। यह देखते हुए निगम अफसरों ने हाथ खींच लिया और पूरी परिषद हॉल में जाते-जाते टेंट पर लौट आई। इसके बाद से महापौर, निगमाध्यक्ष और निगमायुक्त ने इस ओर पलटकर नहीं देखा।

नए सिरे से जल्द जारी होंगे टेंडर

हॉल निर्माण के लिए चि-ति जगह को लेकर कु छ परेशानी थी। नए सिरे से जल्द टेंडर बुलाए जाएंगे और मीटिंग हॉल का निर्माण कराया जाएगा। -अनिल भोंसले, महापौर