भोपाल। केंद्र सरकार पेट्रोल की कीमत कम करने के लिए इथेनॉल मिलाने की तैयारी कर रही है। इसके लिए राज्य सरकार प्रदेश में इथेनॉल पर लगने वाला टैक्स खत्म कर रही है।

इससे इथेनॉल की कीमत में कुछ कमी आएगी। जिससे संभावना है कि पेट्रोल में करीब दस से पंद्रह फीसदी इथेनॉल मिलाया जाएगा। वाणिज्य कर विभाग के अधिकारियों का मानना है कि यदि ऐसा होता है तो पेट्रोल की कीमत आठ से दस रुपए प्रति लीटर घट सकती है।

इथेनॉल पर ढाई रुपए प्रति लीटर टैक्स लगता है। राज्य सरकार इस टैक्स को खत्म करेगी तो उसे महज 16 लाख रुपए का नुकसान होगा। इसलिए राज्य सरकार ने केंद्र के प्रस्ताव को मान लिया है।

वाणिज्यकर विभाग के अपर मुख्य सचिव मनोज श्रीवास्तव ने बताया कि इथेनॉल से टैक्स खत्म करने के लिए प्रस्ताव कैबिनेट को भेज दिया है। इसके अलावा केंद्र सरकार मप्र में पेट्रोल में इथेनॉल मिलाने का एक प्लांट भी लगाएगी। पिछले दिनों ही केंद्र सरकार ने इथेनॉल के दाम बढ़ाए हैं, ताकि गन्ना किसानों को फायदा हो सके।

केंद्र सरकार पेट्रोल में इथेनॉल मिलाकर बेचने की योजना पर पिछले कई सालों से काम कर रही है। इथेनॉल बनाने का मुख्य स्त्रोत गन्ना है, इसके अलावा अन्य मीठे पदार्थों से भी इथेनॉल बनाया जा सकता है।