पुरातत्व विभाग ने प्रतिबंधित किया पर्यटन विभाग के गाइडों का प्रवेश

खजुराहो। सात समंदर पार से आने वाले सैलानियों को अब पर्यटन नगरी खजुराहो के इतिहास को जानने और साइड सीन करने में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। भारतीय पुरातत्व विभाग ने पर्यटन नगरी के गाइडों को इस मंदिरों के अंदर प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है। अब सिर्फ वे ही गाइड, सैलानियों के साथ पहुंच सकेंगे जिन्हें भारत सरकार द्वारा मान्यता प्रदान की गई होगी। ऐसे फरमान से स्थानीय गाइड परेशान हैं तो वहीं सैलानियों को भी भविष्य में दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।

विश्व धरोहर में शुमार पर्यटन स्थल खजुराहो में पूर्व में मध्यप्रदेश पर्यटन विभाग द्वारा बनाये गए राज्य स्तरीय गाइड भी भारतीय पुरातत्व विभागों के स्मारकों में साइड सीन कराया करते थे लेकिन भारतीय पुरातत्व विभाग के एक फरमान से यहां के गाइडों पर दिक्कतों का पहाड़ टूट पड़ा है। भारत सरकार से मान्यता प्राप्त गाइड अनुज कुमार शुक्ला ने बताया कि 6 जुलाई 2018 को भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग भोपाल से विभागीय अधीक्षक भुवन विक्रम खजुराहो विजिट पर आए थे। इस दौरान भारत सरकार से मान्य खजुराहो के लायसेंसी गाइडों के प्रतिनिधि मंडल के सदस्य राजेन्द्र गुप्ता, गोविंद दास रजक, शिवरतन तिवारी, अनीस मोहम्मद, अनुराग श्रीवास्तव, रामेश्वर प्रसाद गुप्ता, प्रतीक जैन, करण सिंह, अंकित सिंह चंदेल, अरविंद खरे, विनोद सेन, राजेश तिवारी, एमएस धामा, राजकिशोर तिवारी, श्याम रजक तथा रवींद्र तिवारी सहित सभी गाइडों ने उनसे मुलाकात करते हुए उन्हें एक ज्ञापन सौंपा था जिसमें भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग की गाइड लाइन के विपरीत प्रदेश स्तरीय गाइडों के खजुराहो स्मारकों में प्रवेश पर आपत्ति जताई और इस पर रोक लगाने की मांग की थी। विभागीय अधीक्षक भुवन विक्रम ने इस मामले में विचार का भरोसा दिया था। ज्ञात रहे कि मप्र पर्यटन विकास निगम द्वारा जारी गाइड लायसेंस में भी भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग द्वारा संरक्षित स्मारकों को क्षेत्राधिकार से बाहर रखा गया है।

इनका कहना है

'मुझे 12 जुलाई 2018 को भोपाल प्रवास पर गए विभाग के वरिष्ठ संरक्षण सहायक एसके सिंह का दूरभाष पर निर्देश मिला कि अभी से खजुराहो के पश्चिमी मंदिर समूह क्षेत्र में मप्र पर्यटन विभाग से अधिकृत राज्य स्तरीय गाइडों का प्रवेश बंद कर दें जिसके परिपालन में मैंने पश्चिमी मंदिर समूह के मुख्य द्वार पर तैनात कर्मचारियों को आदेश से अवगत कराकर उक्त गाइडों का प्रवेश वर्जित करा दिया है। '

जीके शर्मा

कनिष्ठ संरक्षण सहायक, भारतीय पुरातत्व विभाग खजुराहो

नोट समाचार के साथ फोटो 11 का केप्सन है

खजुराहो। पर्यटन नगरी के पश्चिम मंदिर समूह का द्वार।