बड़ा भाई खुद को आग लगाकर दौड़ लगाकर छोटे भाई के शादी के मंडप में पहुंचा, मौत

युवक बेरोजगारी से था परेशान, जिला अस्पताल में इलाज के दौरान मौत

-छिंदवाड़ा (ब्यूरो)। बेरोजगारी से परेशान एक युवक ने अपने छोटे भाई की शादी के दौरान मंडप में मिट्टी तेल डालकर आग लगा ली, जिसे गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया, लेकिन इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पुलिस के अनुसार कन्हरगांव निवासी किशोर पिता परसराम भावरकर (32) के परिजनों ने बताया कि परसराम के छोटे भाई प्रदीप की 12 मार्च को शादी थी। जिसको लेकर शादी की तैयारियां की जा रही थी। बड़ा भाई होने के नाते परिजनों ने किशोर से शादी के लिए कहा लेकिन परसराम ने बेरोजगार होने के कारण शादी से इंकार कर दिया। परिजन ने उसके छोटे भाई प्रदीप की शादी तय कर दी, 12 मार्च को उसकी बारात जाना थी। इसके एक दिन पहले 11 मार्च को देर शाम को मंडप में पंगत में रिश्तेदार और अन्य लोग भोजन कर रहे थे, तभी किशोर ने खुद को आग लगा ली और दौड़ता हुआ मंडप में पहुंच गया। वहां मौजूद लोगों ने आग बुझाई और गंभीर हालत में उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया। इलाज के दौरान किशोर ने बुधवार तड़के 4ः30 बजे दम तोड़ दिया। परिजन का कहना है कि किशोर बेरोजगार था, इस वजह से वह परेशान रहता था।