Naidunia
    Sunday, February 18, 2018
    PreviousNext

    एक दिन की बारिश में नपा के निर्माण कार्यों की खुली पोल

    Published: Wed, 14 Feb 2018 06:13 PM (IST) | Updated: Wed, 14 Feb 2018 06:13 PM (IST)
    By: Editorial Team

    लापरवाही की वजह से रहवासियों के घरों में घुसा पानी

    फोटो- 15, 16

    दमुआ। शिवरात्रि पर्व के दौरान क्षेत्र में हुई झमाझम बारिश ने शहर सरकारी निर्माण कार्यों की पोल खोल दी, वही आम जनता के प्रति इसके नुमाइंदे कितने संवेदनशील है इसकी भी मिसाल पेश कर दी। मंगलवार शाम चार से पांच बजे के दरमियान दमुआ में झमाझम बारिश हुई। जिसके चलते वार्ड नं. 9 में 50 से 60 घरों में पानी घुस गया। वार्डवासियों के घरों में रखा अनाज और बिस्तर भी गीला हो गया। वार्ड पार्षद द्वारा बीते दो महीने से जिला मंडी उपाध्यक्ष व नगरपालिका अध्यक्ष सीएमओ और इंजीनियर को लगातार इस समस्या से अवगत कराया जाता रहा, लेकिन इन जिम्मेदारों ने जनता की परेशानी पर कोई ध्यान नहीं दिया। जिसके चलते वार्ड वासियों को बड़ी परेशानी हुई। इस कालोनी को बने 30 वर्ष हो चुके है। लेकिन अब तक किसी के घर में बारिश का पानी नहीं घुसा था। नई सीसी रोड में कमीशन खोरी और मोटी रकम बचाने के चक्कर में इन सभी ने वार्ड वासियों को हमेशा के लिए मुसीबत में डाल दिया है ।

    अव्यवस्थित बनाई गई सड़क

    यहां बनाया गया सीसी मार्ग जो ग्राउंड लेवल से बहुत ऊंची है। सीसी रोड में नगर पालिका द्वारा खुदाई कम करवाई गई। जिसके कारण रोड ग्राउंड लेवल से उठ गई। नगर पालिका या ठेकेदार द्वारा सीसी रोड के किनारे पानी निकासी के लिए नाली बनाया जाना है, लेकिन किसी को भी वार्डवासियों की परेशानी से क्या मतलब सब मोटी रकम के चक्कर में पड़े है और अभी तक स्लोप बनाकर ब्रांच सड़क को मुख्य सड़क से भी नहीं जोड़ा गया, जिसके कारण बड़ी गाड़ियो की क्रासिंग में परेशानी होती है और कई छोटे वाहन गिर भी चुके है। व्यवस्थित काम न होना ठेकेदार व नगर पालिका की मिलीभगत को उजागर करता है।

    इन रहवासियों के घर घुस है पानी

    अनीस, 66 क्वार्टर, स्व.सुरेश मिस्त्री 66 क्वार्टर, मन्नाु शेंडे 66 क्वार्टर, अशोक उकंड्या 66 क्वार्टर, नितिन द्वेड़े 66 क्वार्टर, रमेश सहारे 66 क्वार्टर, ओमप्रकाश मिस्त्री वाली पूरी चाल में, मालती ठाकुर की पूरी चाल में, दीनानाथ भारती की पूरी चाल में, राजेंद्र देशमुख की पूरी चाल, रहीम खान की पूरी चाल, सुनील यदुवंशी की पूरी चाल और भी अनेकों घरों में परेशानी हुई

    नहीं है किसी को फिकरः पार्षद

    वार्ड नं.09 पार्षद रिंकी कनोजिया ने कहा सड़क निर्माणकी डीपीआर की जानकारी मांगी गई नगर पालिका द्वारा नहीं दी गई। वार्डवासियों के कहे अनुसार सड़क निर्माण से पहले और खुदाई करने के लिए बोला गया, तो ठेकेदार व इंजिनियर कहने लगे खुदाई का पैसा नहीं है। इस काम में तुमको कुछ नहीं समझता हम अपने हिसाब से रोड बना देगें। मेरे द्वारा अनेकों बार नगरपालिका में सीसी रोड किनारे नाली बनाने के लिए आवेदन दिया जा चुका है, लेकिन कोई ध्यान नहीं दिया जाता है। वार्ड में ठेकेदार व इंजीनियर की ही मनमानी चल रही है और नगर पालिका अध्यक्ष व सी.एम.ओ. झांक कर तक नहीं देखते।

    .............................

    ओलावृष्टि से नुकसान के बाद किसानों का प्रदर्शन

    तहसील कार्यालय पहुंचकर किसानों ने की मुआवजे की मांग

    फोटो- 14

    अमरवाड़ा। ओलावृष्टि से हुई बर्बादी से नाराज किसानों ने बुधवार को नगर में प्रदर्शन किया। करबढोल के ग्रामीणों ने सुबह से ही स्थानीय तहसील और पटवारी कार्यालय में आकर अपनी शिकायत दर्ज कराई वहीं सेजा के ग्रामीणों ने ट्रैक्टरों में भरकर ओला लेकर आए और नगर में प्रदर्शन किया। लोगों की समझाइश के बाद उन्हें अपने ग्राम भिजवाया।

    अमरवाड़ा के सहित आसपास के ग्रामीण अंचलों में मूसलाधार बारिश के साथ ओलावृष्टि से किसानों की फसल चौपट हो गई। प्राकृतिक आपदा आने से किसान टूट गया है। 4 महीने खेत में मेहनत करके हजारों रुपए की खाद डालकर परिवार के साथ मेहनत करने वाले किसान पर प्राकृतिक आपदा ओलावृष्टि होने से गेहूं, चना, तुवर, मसूर, टमाटर, आलू, पपीता की फसल खराब हो गई। अमरवाड़ा के आसपास के ग्राम करबडोल, कोंडर बमोहरी, सेजा बारह हीरा ,महुआ खेड़ा, जुगावानी,सजा सहित ग्रामों में मंगलवार की शाम हुई ओलावृष्टि के कारण किसान सुरेश वर्मा कि 10 एकड़ की पूरी फसल चौपट हो गई। जिसमें उन्होंने 8 क्विंटल गेहूं बोया और ढाई सौ बोरा गेहूं होता। सिया बाई रामनरेश कि 2 एकड़ में लगी 2 एकड़ गेहूं बाले सहित झड़ गई। देवी प्रसाद दयाराम की मसूर की 7 एकड़ की फसल खराब हो गई। मुकेश, झाड़ू लाल, ममता बाई, दयाराम, मदन, लक्ष्मी बाई, जीतलाल की फसल खराब हुई। तुलसीराम वर्मा का छप्पर उड़ गया। सनी राम मनवा मदन किस सीमेंट की सीट टूट गई। मदन वर्मा, बिहारी वर्मा, कौशल्या, हरिओम, करोल निवासियों की दिवार टूट गई। पप्पू भारती, अमरु भारती के झाड़ गिरने से शौचालय पूरी तरीके से टूट गया, वही कोडरा में राजकुमार पटेल, गोपाल वर्मा, मुकेश वर्मा, सुनील, दुर्गा, काशीराम, अशोक की फसलें भी ओलावृष्टि के कारण प्रभावित हुई हैं।

    कृषक एवं पूर्व जनपद सदस्य मंडी के सांसद प्रतिनिधि अरविंद यादव, मुन्नाालाल निर्मलकर, मुरारी साहू, सोनाली वर्मा ने बताया कि 60 प्रतिशत फसल को नुकसान ही हुई है। मौके पर तहसीलदार रेखा देशमुख, आरआई धुर्वे, पटवारी रामकुमार मौके पर पहुंचकर पंचनामा बनाकर कार्यवाही कर रहे हैं।

    और जानें :  # Wbhtlt˜t bü YJk ytmv
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें