डग(राज.)। कस्बे के जैन समाज ने भगवान महावीर स्वामी की जयंती पर चल समारोह निकाला, जो सुबह 9 बजे गणेश चौक स्थित परिसर से प्रमुख मार्गों से होते हुए बुधवारिया गेट बस स्टैंड लोहार गेट नीम चौक होते बड़ा जैन मंदिर पहुंचा। यहां मुनि वज्र रत्न सागरजी, आगम रत्न सागरजी, प्रशम रत्न महाराजजी ने भगवान महावीर स्वामी के जीवन चरित्र का वर्णन किया। गुरुदेव ने बताया कि मानव जन्म मिला है, उत्तम कुल मिला है तो इसे सफल बनाएं अधिक से अधिक धर्म आराधना करें तथा अपने जीवन को नर से नारायण बनाएं। कार्यक्रम में नन्हे बच्चों ने कविता पाठ किया। समाज के प्रतिभावान छात्र-छात्राओं का सम्मान किया। उसी दौरान स्थानकवासी समाज ने भी भगवान का जन्मकल्याणक धूमधाम से मनाया। स्थानक भवन परिसर में एकत्र समाजजन ने कार्यक्रम आयोजित किए। बच्चों ने स्तवन नाट्य रूप में प्रस्तुत किया। इस दौरान बड़ी संख्या में समाजजन मौजूद रहे।

दुधालिया में मनाया महोत्सव

समाज के प्रमोद बाफना ने बताया कि

भगवान महावीर को पालकी में विराजित कर बैंडबाजों से नगर के विभिन्ना मार्गों से नाचते-गाते वरघोड़ा निकाला। मार्ग में महिलाओं ने अक्षत की गवली कर भगवान को वंदन किया। भव्य समैया का समापन चंद्रप्रभु जिनालय में हुआ पश्चात संघ के रमेश पिछोलिया व सुजानमल बाफना ने स्वामी वात्सल्य का लाभ लिया।

फोटो है-- डग में निकाला चल समारोह।