नोहटा/दमोह। दमोह से करीब 20 किमी दूर हिनौती ठेंगापटी ग्राम पंचायत के गांव भजिया में दर्जनों लोग हैजा का शिकार हो गए। उन्हें लगातार उल्टी-दस्त होने लगे।

सूचना पर गांव पहुंचे स्वास्थ्य अमले ने मरीजों को गांव के स्कूल में एकत्रित कर उनका इलाज शुरू किया। रविवार दोपहर अचानक एक के बाद एक लोगों के बीमार होने से लोग घबरा गए।

करीब तीन दर्जन लोगों को उल्टी-दस्त की शिकायत के बाद उनका इलाज शुरू किया गया। दो मरीजों की हालत ज्यादा खराब होने पर उन्हें जबेरा अस्पताल भेजा गया है।

बीएमओ डॉ. राय का कहना है कि एक साथ इतने लोगों को उल्टी-दस्त की शिकायत होने का जो कारण अभी तक सामने आया है, उसमें गांव का एक कुआ है। इसमें बारिश का पानी भरने के बाद लोगों ने उसका पीने में उपयोग किया, जिससे यह हालात बने।