दमोह। नोहटा थाना क्षेत्र के बड़याऊ गांव में शुक्रवार शाम करीब 5 बजे तालाब में डूबने से सगे भाई-बहन समेत चार बच्चों की मौत हो गई।

चारों बच्चे दोपहर करीब 2 बजे गांव के तालाब पर नहाने के लिए गए थे। शाम तक उनके नहीं लौटने पर परिजन तलाशते हुए तालाब के पास पहुंचे जहां उनके कपड़े रखे मिले और बच्चे तालाब में डूबे हुए थे। जानकारी मिलने पर पहुंची पुलिस ने बच्चों को बाहर निकाला और जिला अस्पताल पहुंचाया जहां डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

नोहटा थाना प्रभारी जितेंद्र सिंह भदोरिया का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है कि आखिर बच्चे तालाब में कैसे डूबे। डूबने वाले बच्चों में आशमा (16) पिता आनंद शाह, फरयाज (12) पिता आनंद शाह, फिजा (10) पिता मकसूद शाह और नजमा (12)पिता लल्ली शाह हैं।

इसमें आशमा और फरयाज भाई बहन हैं। इस घटना के बाद से परिजन का बुरा हाल है। दोनों मृतक बच्चों के पिता ने आरोप लगाते हुए कहा कि गांव के एक युवक से उनका विवाद चल रहा था। उसने घर पहुंचकर गाली-गलौज की जिससे उसके दोनों बच्चे घर से भागे और तालाब में गिर गए। हालांकि इस बात में कितनी सच्चाई यह तो पुलिस जांच के बाद ही पता चलेगा।